Breaking News
पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी, कहीं ठेले पर बाईक रख जताया विरोध तो कहीं धरने पर बैठे कांग्रेसी | VIDEO : भूरी टेकरी विस्थापन को लेकर निगम की कार्रवाई, कांग्रेस विधायक ने मांगी मोहलत | राहुल गांधी के कार्यक्रम पर प्रशासन की 19 शर्तें, सिर्फ 15 फ़ीट के टेंट में सभा की इजाजत | VIDEO : भोपाल मेयर की सख्त कार्रवाई, नगरनिगम की ट्यूबवेल से हटवाया दबंग का कब्जा | कमलनाथ ने कार्यकर्ताओं को दिए निर्देश, मंडी में किसानों के साथ मिल सरकार के खिलाफ करें प्रदर्शन | प्रधानमंत्री योजना का आवास ना मिलने पर ग्रामीण ने खाया जहर, सरपंच-सचिव पर लगाया रिश्वत मांगने का आरोप | फेसबुक पर कलेक्टर को जान से मारने की धमकी, गृहमंत्री और सांसद पर भी आपत्तिजनक पोस्ट | 23 करोड़ का आईएएस.. | कांग्रेस प्रदेश कार्यसमिति का गठन, 20 जिला अध्यक्षों की घोषणा, दिग्विजय को अहम जिम्मेदारी | शिवराज कैबिनेट के फैसले, यहां पढ़िए विस्तार से |

भाजपा नेता पर पत्नी ने लगाए प्रताड़ना के आरोप, बोली- गुंडों से मिल रही धमकी

आगर मालवा।

मध्यप्रदेश के आगर-मालवा जिले में भाजपा नेता और पूर्व विधायक पर उनकी पत्नी ने प्रताड़ना का आरोप लगाया है। पत्नी ने उनके खिलाफ कोर्ट मे शिकायत दर्ज  की है और भरण पोषण की मांग की है। हालांकि उक्त आवेदन पर अभी तक कोई विचार नहीं किया गया है। संतोष जोशी सुसनेर विधानसभा के पूर्व विधायक है और वर्तमान में मध्यप्रदेश गोपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष हैं, वही इन्हें राज्यमंत्री का भी दर्जा प्राप्त है।

बता दे कि रतलाम निवासी भार्गवी आरएसएस की राष्ट्रीय सेविका समिति में पूर्णकालिक हैं। 15 जून 2012 को आरएसएस के तत्कालीन सरसंघचालक स्व. के.सी. सुदर्शन ने उनका कन्यादान किया था। संतोष जोशी के साथ ही भार्गवी जोशी भी आरएसएस के महत्पूर्ण पदों पर रह चुकी हैं. 

जानकारी के अनुसार, सुसनेर विधानसभा के पूर्व विधायक संतोष जोशी पर उनकी पत्नी भार्गवी जोशी ने प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए कोर्ट में शिकायत दर्ज कराई है। पत्नी ने दायर शिकायत में संतोष पर संतान नहीं होने पर शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि संतोष जोशी के दूसरी महिला के साथ अवैध संबंध है और वे उससे शादी करने वाले है, इसलिए मुझ पर तलाक देने के लिए दबाव बना रहे है, मुझे रोज जान से  मारने की धमकी दी जा रही है। उन्होंने कोर्ट से मांग की है कि उन्हें सुरक्षा दी जाए और पति से भरण पोषण दिलवाया जाए।जोशी ने भार्गवी से तलाक लेने के लिए सितंबर 2017 में सुसनेर न्यायालय में आवेदन पेश किया था। हालांकि उक्त आवेदन पर विचार नहीं हो सका। वही  भार्गवी मुख्यमंत्री शिवराज को भी पत्र भेजकर अपनी पीड़ा बता चुकी हैं।

नलखेड़ा कोर्ट में पेश भार्गवी की पिटिशन पर 26 मार्च को सुनवाई होना थी, लेकिन इस दिन जोशी मौजूद नहीं हुए। वकील के जरिए से उन्होंने कुछ समय मांगा है। अब अगली सुनवाई 19 अप्रैल को होना है। भार्गवी ने सुरक्षा की मांग करते हुए भरण-पोषण के ताैर पर 50 हजार रुपए महीना और रहने के लिए मकान दिलाने की गुहार भी लगाई है। उनका कहना है कि संतोष जोशी की विभिन्न स्रोतों से हर महीने की आमदनी चार से पांच लाख रुपए है।

वही इस पूरे मामले में संतोष का कहना है कि यह पारिवारिक मामला है।वे और उनकी पत्नी भार्गवी सहमति से एक दूसरे अलग हो रहे हैं और रही बात भरण-पोषण की तो वे पहले ही पत्नी को दे चुके है बस अब तालाक होना बाकी है फिलहाल मैंने कोई दूसरी शादी नहीं की है। लेकिन यदि तलाक हो जाता है तो दूसरी शादी भी करेंगे ही सही। विवादों के चलते पिछले काफी समय यह दंपती नलखेड़ा स्थित एक ही मकान में अलग-अलग रह रहे हैं.।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...