सीएम कमलनाथ और सिंधिया के बीच मुलाकात में ये हुई थी बात

अशोकनगर| मध्य प्रदेश दौरे पर आये कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हाल ही में भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाक़ात की| इस मुलाक़ात को लेकर तरह तरह के कयास लगाए गए, हालाँकि सिंधिया ने साफ़ किया कि भारी बारिश से हुए नुकसान और मुआवजे को लेकर उनकी सीएम से चर्चा हुई| अशोकनगर विधायक जजपाल सिंह जज्जी ने विस्तार से बताया कि आखिर सिंधिया की सीएम कमलनाथ से क्या चर्चा हुई| 

उन्होंने बताया प्रदेश और जिले भर में अति वर्षा एवं बाढ़ के कारण लाखों बीघा जमीन की फसल खराब हो चुकी है। खराब हुई सफल का मुआयना बीते दिनों क्षेत्र के पूर्व सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया था। खेतों का मुआयना करने के बाद श्री सिंधिया सीधे मुख्यमंत्री से मिले एवं जिले के किसानों के लिए मुआवजा एवं राहत की मांग की है। इनके साथ  राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत एवं जिले के प्रभारी मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया थे। मुंगावली विकासखंड में बेतवा नदी के किनारे अति वर्षा एवं बाढ़ के कारण लगभग पूरी की पूरी फसल नष्ट हो चुकी है। इलाके की गंभीर हालत को देखते हुए श्री सिंधिया ने दोनों मंत्री एवं जिले के तीनों विधायकों  के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ जी से मुख्यमंत्री आवास में मुलाकात की।

अशोकनगर विधायक जजपाल सिंह जज्जीने बताया श्री सिंधिया ने मुख्यमंत्री को अशोकनगर जिले के किसानों को खराब हो चुकी फसल के बारे में विस्तार से बताया।साथ ही सही मुआवजा दिलाने की बात कही।  श्री सिंधिया ने मुख्यमंत्री को बताया कि अशोकनगर के साथ लंबे समय से पिछली सरकारों ने भेदभाव किया है ।इस जिले को पूर्व में सूखाग्रस्त घोषित किया गया था ,मगर इसके बाद भी मुआवजा नहीं दिया गया ।श्री सिंधिया ने मुख्यमंत्री को बताया कि जिले में पूर्व में पटवारियों के की सर्वे की रिपोर्ट को बदल दिया गया था।जिससे किसानों को मुआवजे का लाभ नही मिल पाया था।श्री सिंधिया ने मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ से कहा कि वह   व्यक्तिगत अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके बीमा कंपनियों से बात करें,ताकि किसानों को बीमा की मुआवजा राशि मिल सके।  श्री सिंधिया ने मुख्यमंत्री को बताया कि जो प्राथमिक सर्वे  सामने आया है मैं पूरी तरह से सही नहीं है ।उन्होंने कहा कि जब  तक खेतों से पानी  नही निकल जाता तब तक सही आंकलन नही हो सकता इसलिये  खेतो के सुख जाने के बाद फिर से सर्वे कराये। एवं उस मान से किसानों को मुआवजा राशि स्वीकृत की जाये।

सीएम ने दिया आश्वासन 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने श्री सिंधिया को आश्वासन दिया है ,कि किसानों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा ।सीएम ने बताया कि व्यक्तिगत तौर पर उन्होंने कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि  उचित सर्वे  किया जाए।साथ ही उन्होंने राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत को भी निर्देश दिया कि सर्वे के मामले में उनका विभाग ध्यान रखें । मुख्यमंत्री ने जिले के तीनों विधायकों गोपाल सिंह चौहान ,बृजेंद्र सिंह यादव एवं जजपाल सिंह जज्जी को भी कहा कि जिले में पटवारी खेत स्तर तक पहुंचकर सर्वे करें यह सुनिश्चित कराना उनका दायित्व है। मुख्यमंत्री ने पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया  को आश्वस्त किया है, कि अति वर्षा एवं बाढ़ से खराब हुई फसल का सही से सर्वे कराया जाएगा एवं उनका उचित मुआवजा वितरण करने की व्यवस्था की जाएगी।

"To get the latest news update download the app"