विधायक जी ने पढ़ाई छोड़ लगवाए मुख्यमंत्री के नारे, बच्चे बोले- 'शिवराज मामा अमर रहे'

अशोकनगर। 

मुंगावली उपचुनाव के दौरान पत्तल पर खाना खिलाने और ट्रामा सेंटर के उद्घाटन करने के बाद उसे गंगाजल से धोकर शुद्ध करने के मामले से सुर्खियों में आए दलित भाजपा विधायक गोपीलाल जाटव एक बार फिर चर्चाओं में है। इस बार मामला मामला प्रदेश सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में आयोजित मिल बांचे कार्यक्रम का है। जहां मंत्री जी को बच्चों से पढ़ाई की बाते ना करके मुख्यमंत्री के नारे लगवाए।  लेकिन बच्चों ने जिंदाबाद की जगह अमर रहे के नारे लगा दिए ।फिर क्या था बच्चों के मुंह से निकले शब्दों से स्टाफ सहित विधायक जाटव चकित रह गए। हालांकि उन्होंने तुरंत ही बच्चों को समझाया और कहा कि अमर रहें, नहीं जिंदाबाद बोलो। इस पर बच्चों ने फिर हाथ उठाकर दो बार शिवराज मामा जिंदाबाद के नारे लगाए।

दरअसल, दो दिन पहले 31 अगस्त शुक्रवार को प्रदेशभर में सरकार द्वारा मिल बांचें कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस दौरान प्रदेश के अधिकारी, मंत्री, नेता और विधायक स्कूलों में पढ़ाने बच्चों को अपने-अपने क्षेत्रों में पहुंचे थे। इसी बीच भाजपा विधायक गोपीलाल जाटव भी शाढ़ौरा क्षेत्र के पहाड़ा गांव में बच्चों को पढ़ाने पहुंचे। लेकिन उन्होंने यहां बच्चों को पढ़ाने की बजाए मुख्यमंत्री शिवराज के नारे लगवाए। इसी बीच जैसे ही उन्होंने  वंदेमातरम का नारा बोलकर जब शिवराज मामा का नारा लगवाया तो मिडिल स्कूल के बच्चों ने शिवराज मामा अमर रहे के नारे लगा दिए। इस दौरान  स्कूल का स्टाफ और कई अधिकारी मौजूद थे। बच्चों के मुंह से नारे सुनते ही वे भौचक्के रह गए। हालांकि बाद में बात को संभालते हुए विधायक जी ने बच्चों को समझाइश देते हुए कहा कि अमर रहे बोलते, नहीं जिंदाबाद बोलो बच्चों। खैर दूसरी बार में बच्चों ने फिर हाथ उठाकर दो बार शिवराज मामा जिंदाबाद के नारे लगाए। करीब 11.30 बजे स्कूल पहुंचे विधायक ने प्राथमिक और मिडिल स्कूल में मात्र 10 मिनट रुके।