MP में रेत माफिया बेखौफ, ट्रैक्टर-ट्राली पकड़ने गए पुलिसकर्मियों पर पथराव, गंभीर घायल

शिवपुरी।

भले ही प्रदेश में सत्ता परिवर्तित हुए छह महिने बीत गए हो लेकिन रेत माफियाओं का आतंक थमने का नाम नही ले रहा है। आए दिन माफियाओं द्वारा अधिकारियों-कर्मचारियों से मारपीट और हमले की खबरे सामने आ रही है। ताजा मामला शिवपुरी से सामने आया है। यहां शिवपुरी में अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर ट्राली को पकड़ने गई पुलिस टीम पर रेत माफिया के गुर्गों ने हमला बोल दिया, जिसमें दो पुलिसकर्मी बुरी तरह से घायल हो गए।जिन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

दरअसल, मामला शिवपुरी के करैरा क्षेत्र का है। यहां करैरा थाने की सुनारी चौकी के प्रभारी रवि गुप्ता और आरक्षक दिलीप खरैह गुरुवार की देर शाम रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़ने क्षेत्र में पहुंचे। बताया जा रहा है कि रात करीब 9 बजे सड़ गांव के पास रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने की कोशिश की तो रेत माफिया के लोगों ने पथराव कर दिया।पथराव में आरक्षक दिलीप खरैह पुत्र अशोक खरैह के सिर में गंभीर चोट आ गई। इस घटना एसआई रवि गुप्ता को भी चोटें आईं हैं। आरक्षक दिलीप की हालत को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र करैरा से डॉक्टर ने शिवपुरी रेफर कर दिया। रात में ही आरक्षक दिलीप को शिवपुरी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।बताया जा रहा है कि दिलीप के सिर में इतनी गंभीर चोट लगी कि पूरी वर्दी खून से लाल हो गई। उसे इलाज के लिए शिवपुरी लाया गया है और उसकी हालत गंभीर है। अवैध खनन रोकने में पुलिस की सुस्ती और इसमें बाधा डालने वालों पर खनन माफिया के हमलों से विधि व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

इधर नायाब तहसीलदार पर हमला और जान से मारने  की धमकी

दरअसल, पहला मामला अशोकनगर के अजलेश्वर के पास का है। यहां गुरुवार को नायब तहसीलदार मयंक खेमरिया ने जब रेत से लदे एक ट्रैक्टर ट्राली को पकड़ा और रायल्टी का पेपर मांगा तो नहीं दिया, जब उसे सीज करने की कार्रवाई शुरू की तो खनन माफिया के गुर्गे आ धमके और हाथ से पेपर लेकर फाड़ दिया। जब तक कुछ समझ आता, तब तक किसी ने सिर पर लकड़ी से वार कर दिया। जान बचाने के लिए नायब तहसीलदार अपनी कार में घुसे तो गालियों की बौछार के साथ जान से मार डालने की धमकी दे डाली कि तहसीलदारी हम तुम्हें दिखाएंगे, सरपंच की गाड़ी पकड़ोगे।


"To get the latest news update download the app"