डर्टी पालिटिक्स..सिंधिया के लिये क्या बोले भाजपा जिलाध्यक्ष

अशोकनगर

लाख पीएम- सीएम की नसीहत के बावजूद नेता अक्सर ऐसे बयान देते हैं जो कई बार विवाद को जन्म दे देते हैं या विवाद को बढ़ा देते हैं। जिसके कारण वे ना सिर्फ अपनी बल्कि पार्टी की भी किरकिरी कराते रहते हैं। इसी कड़ी में एक बार फिर अपने विवादित बयानों के लिये हमेशा चर्चाओं में रहने वाले भाजपा नेता और जिलाध्यक्ष जयकुमार सिंघई ने एक बार फिर सिंधिया को लेकर विवादित बयान दिया है।उन्होंने कहा है कि  क्षेत्रिय सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को पूर्ण रूप से झूठन खाने की आदत पड़ चुकी है, वह करे कराए कार्यों के पुन: करने के आदि हो चुके हैं, सिंधिया बेशर्मी की सभी हदें पार कर रहें हैं।बयान के बाद से राजनीति गर्मा गई है। विपक्ष ने भाजपा पर हमले बोलना शुरु कर दिए है।

सिंघई ने कहा कि चंदेरी में प्रभारी मंत्री जयभान सिंह पवैया द्वारा शासकीय स्कूलों के किए गए शिलान्यास होने के बाबजूद सांसद सिंधिया द्वारा पुन: स्कूलों के शिलान्यास किया गया। इन्हें पूर्ण रूप से झूठन खाने की आदत पड़ चुकी है जो बेहद शर्मनाक कृत है। सांसद सिंधिया को ज्ञान होना चाहिए कि चंदेरी में वह जिन उच्च विद्यालय का शिलान्यास कर रहे हैं, उन सभी स्कूलों का शिलान्यास अशोकनगर में नवीन कलेक्ट्रेट भवन के लोकार्पण आयोजन के समय प्रभारी मंत्री जयभानसिंह पवैया और लोकनिर्माण मंत्री रामपाल सिंह 24 जून 2017 में कर चुके हैं।

इतना ही नही सिंघई ने कहा कि सिंधिया जिस पानी सप्लाई लाईन का लोकार्पण कर रहे हैं, वह अभी अपूर्ण है, तथा संचालनालय नगरीय प्रशासन का आदेश भी है कि उक्त नगरीय प्रशासन से स्वीकृत किसी योजना का लोकार्पण उसकी बिना अनुमति के न कराया जाए। पर इसके बावजूद भी सांसद सिंधिया द्वारा बिना किसी स्वीकृति के लोकार्पण किया जा रहा है जो निंदनीय है। 

सिंघई ने कहा कि सिंधिया इस तरह के काम कर अपनी सभी हदें पार कर रहे हैं। लोकार्पण की बीमारी से ग्रस्त सिंधिया स्वयं एक हाथ में नारियल और एक हाथ में पत्थर ले कर पहुंचते हैं, जो इस संसदीय क्षेत्र के लिए शर्मनाक है।