कलेक्टर की सराहनीय पहल, छात्राओं के लिये शुरू किया 'शुचिता अभियान'

अशोकनगर।

छात्राओं में 5-एस स्‍वास्‍थ्‍य, स्‍वरक्षा, स्‍वच्‍छता स्‍वाभिमान तथा स्‍वावलंबन के लिए जिले में शुचिता कार्यक्रम के तहत स्‍कूली छात्राओं को प्रेरित कर जन जागरूकता के लिए चलाया जा रहा है।  बुधवार को स्‍थानीय माधव भवन में कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा की पहल पर शुचिता 5- एस कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

      इस अवसर पर कलेक्‍टर ने कहा कि जिले में पहलीवार छात्राओं के संकोच एवं झिझक को मिटाने के लिए नवाचार कर शुचिता यानी पवित्रता अभियान चलाया जा रहा है। यह विषय महिलाओं से जुड़ा हुआ है इस अभियान का मुख्‍य उद्देश्‍य स्‍कूली छात्राओं से खुलकर बातचीत कर उनके स्‍वास्‍थ्‍य और स्‍वच्‍छता के प्रति समूचित माहवारी प्रबंधन के बारे मे विस्‍तार से जानकारी देना है। साथही बालिकाओं को अच्‍छी गुणवत्‍ता वाले सेनेटरी नेपकिन की उपलब्‍धता सुनिश्चित करना व उनका प्रयोग तथा उसे व्‍यवहार में लाने के लिए प्रोत्‍साहित करना है। उन्‍होंने कहा कि जिले में शुचिता नवाचार के तहत 5-एस स्‍वास्‍थ्‍य, स्‍वच्‍छता, स्‍वरक्षा, स्‍वाभिमान तथा स्‍वाबलंबन की दिशा में कार्य करना है। उन्‍होंने बताया कि प्रथम चरण में जिले के 11 कन्‍या विद्यालय, शिक्षा विभाग के 10 कन्‍या छात्रावास, आदिम जाति कल्‍याण विभाग के 17 कन्‍या छात्रावास, पिछड़ा वर्ग के एक कन्‍या छात्रावास तथा कुछ चुंनिदा आंगनवाड़ी केंद्रों के माध्‍यम से 08 हजार बालिकाओं को अभियान से जोड़ जाएगा। जिले के प्रत्‍येक बालिक विद्यालय में बालिकाओं हेतु जागरूकता कार्यक्रम स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण और परामर्श शिविर आयोजित किए जाएगें। आज जिला मुख्‍यालय पर स्थित शासकीय कन्‍या उच्‍चतर माध्‍यमिक विद्यलय अशोकनगर से इसकी शुरूआत हो चुकी है।

स्‍वसहायता समूह के माध्‍यम से उपलब्‍ध होगें सेनेटरी नेपकिन 

     शुचिता अभियान के तहत उपलब्‍ध कराए जाने वाले सेनेटरी नेपकिन एनआरएलएम के स्‍वसहायता समूहों के माध्‍यम से उपलब्‍ध कराए जाएगें। जिले में संचालित 05 यूनिट में प्रतिदिन 250 पैकेट  बनाने की क्षमता है इन पैकेटों को चयनित विद्यालयों एवं छात्रावास की बालिकाओं को न्‍यूनतम एक रूपए प्रति पैट की दर से उपलब्‍ध कराए जाएगें। अभियान के द्वतीय चरण में जिले के समस्‍त विद्यालय एवं आंगनवाड़ी केंद्रों को शामिल किया जाएगा।  

शुचिता लोगो का अनावरण

 कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा एवं अतिथियों द्वारा शुचिता 5- एस लोगो का अनावरण किया गया। इस लोगों का डिजाइन कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा द्वारा स्‍वयं तैयार किया गया है। इस लोगो के माध्‍यम से मॉ- बेटी के चित्र को रेखांकित कर स्‍वास्‍थ्‍य, स्‍वच्‍छता, स्‍वरक्षा, स्‍वाभिमान तथा स्‍वाबलंबन का संदेश किशोरियों एवं महिलाओं को दिया गया है।

बच्चियों को गिफ्ट किए नेपकिन पैकेट

  कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा सहित अतिथियों द्वारा प्र‍तीक स्‍वरूप 05 स्‍कूली बच्चियों को नेपकिन के पैकेट गिफ्ट किए गए। कार्यक्रम में एडीजे श्रीमति प्रिया शर्मा द्वारा महिला सुरक्षा कानून के बारे में विस्‍तार से जानकारी दी गई।

"To get the latest news update download the app"