PM के लिए कचरा गाड़ी में लेकर पहुंचे शव, CM के ट्वीट के बाद 2 बर्खास्त, 1 सस्पेंड,

अशोकनगर।

मध्यप्रदेश के अशोकनगर से मनावता को शर्मसार कर देना वाला मामला सामने आया है। यहां एक महिला के शव को पीएम के लिए ले जाने के लिए जब वाहन नही मिला तो परिजन नगर पालिका की कचरा गाड़ी में ही शव रख अस्पताल पहुंचे। जब इस घटना की जानकारी सीएम कमलनाथ को लगी तो वे भड़क गए और उन्होंने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए है।जिसके बाद दो को बर्खास्त और एक को निलंबित कर दिया गया है। वही घटना के बाद अस्पताल प्रबंधन में हडकंप मच गया है।

दरअसल, जिले के पठार मोहल्ला निवासी पूजा पति नरेंद्र ओझा उम्र 22 वर्ष ने बीती रात अज्ञात कारणों से पंखे से लटककर फांसी लगा ली।सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा बनाने के बाद जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कराने को कहा।परिजनों ने शव वाहन के लिए फोन लगाया तो मौके पर शव वाहन के स्थान पर नपा की कचरा भरने वाली ट्रैक्टर-ट्रॉली पहुंच गई। लेकिन जब ट्राली ब्रिज से गुजर रही थी तभी उसका एक पहिया निकल गया। इसके बाद महिला के शव को दूसरे कचरा वाहन में रखा गया। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाया गया। पीएम होने के बाद शव को किराए के वाहन से ले जाना पड़ा। 

इस घटना पर सीएम कमलनाथ ने नाराजगी जताई है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कही है।सीएम ने ट्वीट कर लिखा है कि अशोकनगर में एक महिला के शव को शववाहन के स्थान पर कचरा गाड़ी व डंपर में ले जाने की घटना इंसानियत व मानवता को तार-तार कर देने वाली है।ऐसी घटनाएँ व चित्र, दिल को झकझोर देते है ,बर्दाश्त नहीं किये जा सकते है।लापरवाही बरतने वाले दोषियों पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए गए है। जिसके बाद प्रशासन द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए लापरवाही बरतने पर नगरपालिका के वाहन प्रभारी विकास शर्मा व रमेश साहू को सेवा से पृथक करने का और पुलिस उपनिरीक्षक भोजराम भगत को लापरवाही बरतने पर निलंबित करने का निर्णय लिया गया है।









"To get the latest news update download the app"