ट्रैन को लेकर तकरार, भाजपा का आरोप-'जबरन का श्रेय ले रहे सिंधिया'

अशोकनगर| कांग्रेस सांसद अशोक नगर जिले में कोई शिलान्यास या उद्घाटन का कार्यक्रम हो और उस पर कोई विवाद ना हो यह संभव ही नहीं दिखाई देता है । ताजा विवाद भगत की कोठी से तांमबुरम तक जाने वाली हमसफर एक्सप्रेस के उद्घाटन को लेकर शुरू हुआ है। सोमवार-मंगलबार की दरमियान रात को सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना से बैठ कर इस ट्रेन में अशोकनगर आए थे एवं सांकेतिक उद्घाटन किया था । इस अवसर पर स्थानीय कांग्रेसियों ने ट्रेन शुरू कराने को लेकर सिंधिया का सम्मान किया और ढोल-नगाड़ों के साथ उनकी आगवानी की । इस मौके पर सिंधिया ने कहा था कि करीब 6 वर्ष के लंबे संघर्ष के बाद उन्होंने यह ट्रेन चलवाई है। 

अब सिंधिया के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी ने विरोध जताया है । भाजपा जिलाध्यक्ष जय कुमार सिंघई का कहना है कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया श्रेय लेने की राजनीति करते रहते हैं । इस ट्रेन को लेकर भी सांसद सिंधिया जबरन का श्रेय ले रहे हैं। जबकि स्थानीय लोगों का इस ट्रेन चलवाने के लिए करीब दो दशक पुराना संघर्ष रहा है ।राजस्थान से साउथ में जाने वाले लोग लंबे समय से लंबी दूरी की ट्रेन की मांग कर रहे थे । बीच में यह चालू भी हुई थी मगर किसी कारणों से बंद हो गई  थी। बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि सिंधिया सिर्फ वाहवाही लूटने के लिए खाली ट्रेन में बैठकर अशोकनगर स्टेशन आए । जबकि इस ट्रेन का विधिवत उद्घाटन 23 तारीख को चेन्नई में होना है|

इससे पूर्व भी सांसद सिंधिया और बीजेपी के बीच में गुना बीना रेल खंड ट्रेनों को लेकर राजनीति होती रही है | पूर्व में सिंधिया ट्रेनों को चलवाने की बात कहते रहे है। हाल ही में सांसद सिंधिया के द्वारा चलाई गई कई ट्रेन बंद कर दी गई है । इस मुद्दे पर सिंधिया का कहना था कि वह इस बात की जानकारी ले रहे हैं कि इन ट्रेनों का संचालन कहीं राजनीतिक विद्वेष के कारण तो बंद नहीं हुआ है । उन्होंने आश्वासन दिया कि अगर 6 माह बाद उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो बंद हुई ट्रेन है फिर चालू हो जाएंगी। 

उल्लेखनीय है चुनाव से पहले सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को उन्हीं के घर में घेरने के लिए BJP कोई कसर नहीं छोड़ती और ताजा मामला भी इसी रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है।


"To get the latest news update download tha app"