किसान आंदोलन के बीच बालाघाट में किसान ने जहर पीकर दी जान, घर पर बढ़ाई गई सुरक्षा

बालाघाट।

एक तरफ प्रदेश में किसान आंदोलन चल रहा है, वही दूसरी तरफ कर्ज से परेशान होकर एक किसान ने जान दे दी है।घटना के बाद हड़कंप मच गया है।पुलिस के आला अधिकारी किसान के घर पहुंचे है। इसके अलावा आंदोलन को देखते हुए किसान के घर की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है।फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच कर रही है।

बताया जा रहा है कि किसान धनलाल पिता विट्ठोबा भोपटे बालाघाट के वारासिवनी इलाके के कासपुर का रहने वाला था। उसने पंजाब नेशनल बैंक से किसान क्रेडित कार्ड के जरिए डेढ़ लाख का कर्जा ले रखा था। फसल बर्बादी और सूखे के चलते वह  कर्ज नही चुका पा रहा था और दिन-रात उसको लेकर परेशान रहता था।वही थोड़े दिन पहले इसी कर्ज को लेकर धनलाल की अपने छोटे बेटे से अनबन हो गई थी, जिसके बाद उसने जहर पी लिया था।आनन-फानन में उसे अस्पताल भर्ती करवाया गया था, आज इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। आशंका जताई जा रही है कि किसान आंदोलन के चलते विवाद की स्थिति पनप सकती है,इसलिए पहले ही मृतक किसान के घर पर पुलिस द्वारा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए गए है। वही  किसान की मौत की खबर मिलते ही पुलिस और प्रशासन के अधिकारी किसान के घर पर पहुंचे। हर आने जाने वाले पर नजर रखी जा रही है।हालांकि पूरे जिले में पहले से ही अलर्ट जारी है।