Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

कॉम्पलेक्स में भड़की आग, 9 दुकानें और 4 मकान जलकर खाक, लाखों के नुकसान की आशंका

बैतूल

मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में दो अलग-अलग इलाकों में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि उसने अपने चपेट में नौ दुकानों और चार मकानों को ले लिया।आग लगने के बाद बाजार में अफरा तफरी का माहौल हो गया। दोनों ही घटनाएं शॉर्ट सर्किट से होने की बात कही जा रही है। आग लगने से दुकानदारों और मकान मालिकों का लाखों का नुकसान होना बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार, पहली घटना आमला की है, जहां रविवार सुबह एक कॉम्पलेक्स में आग लगी और  8 दुकाने और 1 मकान चपेट में आ गया, वही शाहपुर के जामुनढाना में 1 दुकान और 3 मकान आग से खाक हो गए।वही इस आग में एक विधवा महिला का घर जलकर खाक हो गया और वो बेघर हो गई। आग की सूचना स्थानीय लोगों द्वारा दमकल को दी गई, लेकिन जब तक दमकल पहुंची तब तक आग दुकानों और मकानों को अपनी चपेट में ले चुकी थी।वही दो दमकलों द्वारा भी जब आग पर काबू नहीं पाया जा सका तो फिर एयरफोर्स और मुलताई से दमकलें बुलवाई गईं। करीब 5 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। 

हालांकि अभी तक इस बात का खुलासा नही हो पाया है कि आग कैसे लगी लेकिन संभावना जताई जा रही है कि शॉर्ट सर्किट से आग लगी है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है, वही राजस्व विभाग के अधिकारी नुकसान का आंकलन करने मे लगे हुए है।

बताया जा रहा है कि आग को सबसे पहले सुबह की सैर करने लोगों द्वारा देखा गया और फिर दमकल को सूचना दी गई। अगर थोड़ी देर और हो जाती तो बड़ा नुकसान हो सकता था।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...