62 हज़ार शिक्षकों की भर्ती में बेटियों को मिलेगा आरक्षण का लाभ: मुख्यमंत्री

बैतूल|  तेंदुपत्ता व असंगठित मजदूर सम्मेलन में शामिल होने बैतूल पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी घोषणाएं की है| सभा को सम्बोधित करते हुए सीएम शिवराज ने कहा प्रदेश में बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है। स्थानीय चुनाव और शिक्षक की भर्ती में 50% आरक्षण दिया जाता है। प्रदेश में होने वाली 62 हज़ार शिक्षकों की भर्ती में भी बेटियों को आरक्षण का लाभ मिलेगा| वहीं सीएम ने फ्लैट रेट पर केवल 200 रुपये प्रतिमाह बिजली का बिल देने का भी एलान किया| हालांकि यह घोषणा सीएम पहले भी कई कार्यक्रमों के दौरान कर चुके हैं| सम्मेलन में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा सड़क परिवहन व राजमार्ग केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी मौजूद रहे| सम्मेलन में बैतूल एवं हरदा जिले के हितग्राहियों को तेंदूपत्ता बोनस वितरण के साथ ही चरण पादुकाएं, पानी की बोतल एवं साड़ी का वितरण किया। 

मुख्यमंत्री ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा  10 जून को प्रदेश के किसानों को गेंहू और धान पर प्रोत्साहन राशि का आवंटन किया जाएगा। साथ ही 13 जून को मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के हितलाभ हितग्राहियों को सौंपे जाएंगे| सीएम ने कहा श्रमिकों को बिजली के बड़े-बड़े बिल नहीं भरने होंगे। अब जो केवल बल्ब जलायेगा, पंखा और टीवी चलायेगा उसे फ्लैट रेट पर केवल 200 रुपये प्रतिमाह बिजली का बिल देना होगा| 

सीएम ने कहा गर्भवती श्रमिक बहनों को 6 से 9 माह की अवधि में 4 हज़ार और प्रसव के बाद 12 हज़ार रुपए दिये जाएंगे, जिससे वे आराम कर सकें और पौष्टिक भोजन से सेहत सुधर सके ताकि उनके शिशु स्वस्थ हों|  उन्होंने कहा प्रसन्नता की बात है कि असंगठित श्रमिकों के कल्याण की योजना में बैतूल से 4 लाख 70 हजार और हरदा से 1 लाख 50 हजार पंजीयन हुए हैं| हमारी सरकार ने सत्ता में आते ही गरीब कल्याण के लिए कार्य करना आरंभ किया। हमने गरीबों को 1 रुपये प्रति किलो में गेंहू, चावल, नमक उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की। गरीब भाई-बहनों को हम ज़मीन के टुकड़े और वनों में ज़मीन का पट्टा दे रहे हैं। 

"To get the latest news update download tha app"