एट्रोसिटी एक्ट पर दिग्विजय का गोलमोल जवाब, राफेल पर बोले-'चोर को चोर नहीं तो क्या कहें'

बैतूल ।। हेमंत पवार । 

बैतूल पहुचे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने आज पत्रवार्ता के दौरान कहा की राहुल जी गांधी ने मध्यप्रदेश में समन्वय समिति का गठन किया है 51 जिलो में से 41 जिले हम लोग घूम चुके है । हमने इसकी शुरुआत ओरछा से शुरुआत की थी इस समिति का काम जिले के कांग्रेसियो से चर्चा करना और आगे की रणनीति बनाना है । आगे उन्होंने कहा की एक जमाने में सारनी प्रदेश की विद्युत राजधानी कही जाती थी लेकिन अब धीरे-धीरे सारनी पॉवर प्लांट बंद होने की कगार पर है , शिवराज सिंग wcl का कोयला नहीं लेकर इम्पोर्टेड कोयला खरीद रहे है अब क्यों खरीद रही है ये सबको पता है क्योकि भारी कमिसन मिलता है । ये इम्पोर्टेड कोयला नरेंद्र मोदी के करीबी से खरीदा जा रहा है । पहले सारनी में 4 से साढे 4 हजार कर्मचारी थे सारनी में अब 1,5 हजार ही बचे है भाजपा के लोग निजी हाथो में पॉवर हाउस दे रहे है ।

व्यापम मामले को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा की जाँच गलत तरह से हो रही है किसी भी टेक्नोलॉजी या कंप्यूटर सिस्टम से क्राइम होता है तो हार्ड डिस्क में फ़ाइल होती है ये इस जाँच में नहीं ली गई है । 18 जुलाई 2013 में हार्ड डिस्क का लोकेशन भोपाल की बजाय शाम को 4 से 5 बजे तक का लोकेशन इंदौर में बता रहा है । फोरेंसिक जाँच का 2011 से गुजरात में चल रही है । हमारे पास जो ओरिजनल कॉपी आई है उसमे लिखा है की व्यापम मामले में ये लोग शामिल है ।  लेकिन 8,30 बजे उसे गुजरात भेजा गया जाँच के लिए और ये फोरेंसिक समिति गड़बड़ करने में माहिर है । श्री सिंह ने कहा की उमा भारती का नाम क्यों नहीं है mp पुलिस ने पैसा देने वालो को ही अपराधी बना दिया जिन्होंने पैसा लिया उन्हें अपराधी नहीं बनाया । एसआईटी और अब तो सीबीआई भी इनको बचाने में लगी है । रेत खनन में शिवराज और उनके परिवार के लोगो जुड़े है उन्ही का हाथ है । 30 हजार करोड़ का इ-टेंडर में घोटाला का अंदेशा है । आदिवासियों के प्रति भाजपा का रुख पता है ज्योति धुर्वे आदिवासी नहीं फिर भी फर्जी लोगो को आदिवासी बनाकर आदिवासियों का हक़ मारा जा रहा है ।

राफेल विमान खरीदी पर दिग्विजय सिंह ने कहा की राफेल हवाई जहाज की खरीदी में घोटाला हुआ है । हमे 136 हवाई जहाज की जरुरत है कौनसा हवाई जहाज हमे चाहिए ये सेना बताती है । 15 दिन के बाद मोदी जी फ्रांस जाते है और बिना कैबिनेट में मंजूरी लिए 136 के बजाये 36 हवाई जहाज की खरीदी पर समझोता कर लिया जाता है । ये विमान 60 से 70 हजार करोड़ में आ रहे थे जो अब 90 हजार करोड़ के आ रहे है मोदी जी की सर्कार कीमत नहीं बता रही है । यही नहीं इन्होंने ऐसी कंपनी ठेका दे दिया जिसे रक्षा मामलो का अनुभव ही नहीं है । साफ पता चलता है की हजारो करोड़ का भ्रष्टाचार हुआ है । पूर्व फ्रांस के राष्ट्रपति ने भी कहा है की मोदी जी की सिफारिश पर इस कंपनी को ठेका दिया है । ये चौकीदार नहीं है चोर है । 

पत्रकारो के एट्रो सिटी एक्ट को लेकर पूछे गए सवाल पर दिग्विजय सिंह ने गोल मोल जवाब दिया और इस सवाल से बचते नजर आये । उन्होने कहा की बिना जाँच गिरफ़्तारी वाला कानून बनाने वाले लोगो संसद में बैठे है उन्होंने इसे पास किया है । जनता ने ही उन्हें बैठाया है देश और प्रदेश में हमारी पार्टी आती है तो लोगो की राय लेंगे । सपाक्स के आंदोलन को लेकर श्री सिंह ने कहा की ये भाजपा का संग़ठन है ।

"To get the latest news update download tha app"