युवक की मौत पर बवाल, शराब दुकानें फूंक डाली, पुलिस पर पथराव, धारा 144 लागू

बैतूल/आठनेर ।

बैतूल| मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के आठनेर में तीन दिन से लापता युवक सुमीत लहरपुरे की लाश मिलने के बाद इलाके में शुरू हुए विरोध ने दोपहर में हिंसात्मक रूप ले लिया| लोगों का आक्रोश भड़क गया और क्षेत्र में भारी तनाव की स्तिथि बन गई| सुमित की हत्या का आरोप लगाते हुए ग्रामीण सुबह से सड़क पर उतरकर विरोध जता रहे हैं। सुबह से ही चक्काजाम कर लोगों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं, आठनेर में तनाव को देखते हुए टी आई को पहले ही लाइन अटैच कर दिया गया है| लेकिन लोगों का आक्रोश नहीं थमा| सड़कों पर उतरे सैंकड़ों की संख्या में लोगों ने दो शराब दुकानों में आग लगा दी और पुलिस पर भी पत्थर बरसाए| स्तिथि बिगड़ने के बाद प्रशासन ने इलाके में धारा 144 लगा दी है| 

दरअसल,  तीन दिन से लापता युवक सुमीत लहरपुरे की लाश बुधवार शाम को ताप्ती घाट में मिलने से क्षेत्र में तनाव फैल गया| लोगों का पुलिस के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा| बुधवार देर रात भी अस्पताल के सामने जमा भीड ने  जमकर हंगामा किया पुलिस की कार्रवाई से नाराज होकर लोगों ने जमकर नारेबाजी भी की| देर रात पुलिस अधीक्षक भी आठनेर पहुंचे थे । आठनेर में तनाव को देखते हुए टी आई को लाइन अटैच कर दिया गया है| गुरूवार को इलाके में बंद का आह्वान किया गया था, जिसमे लोगों ने जमकर हंगामा किया और आक्रोशित लोगों ने दोपहर बाद पुलिस पर पथराव कर दिया| ग्रामीणों ने नगर की 2 शराब दुकानों को आग के हवाले कर दिया। पथराव की इस घटना में मुलताई के एसडीओपी सहित अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने हल्का बल प्रयोग किया। हालात बेकाबू होने के बाद प्रशाशन ने धारा 144 लगा दी है। कलेक्टर और एसपी मौके पर पहुंचे हैं। भैसदेही एसडीओपी पीएस ठाकुर ने बताया कि पथराव में मुलताई के एसडीओपी अनिल कुमार शुकला को गंभीर चोट आई है| लोगों ने सड़क पर टायर जलाकर रास्ता रोक दिया और सड़क पर लगे 4 सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ दिए। क्षेत्र में कई जगह तोड़फोड़ और आगजनी की गई है| 

सुमित की हत्या का शक बैटरी चोर गिरोह से जुड़कर देखा जा रहा है परिजन एवं रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि सुमित की हत्या बैटरी चोर गिरोह ने की है अपने प्लाट पर मकान निर्माण की देखने के लिए सुमित अपने वाहन में अंदर था  8 जुलाई को देर रात सुमित अपने वाहन में सोया था तभी अज्ञात बैटरी चोर गिरोह ने स्वयं के वाहन से बैटरी चोरी करने की कोशिश की थी   जिसका विरोध सुमित ने किया था उसी रात से सुमित लहरपुरे गायब था जिसकी चार दिनों बाद ताप्ती घाट के जंगल में लाश मिली है जिसके बाद नगर में तनाव बरकरार है |  परिजनों का आरोप था कि सुमित के साथ कोई घटना हुई है।  पुलिस ने इस मामले में गंभीरता नहीं बरती नहीं तो सुमित की जान बच सकती थी।