जनता मूलभूत सुविधाओं से वंचित..और प्रभारी मंत्री विकास कार्यो की झूठी डुगडुगी बजा रहे : दुबे

भिण्ड

मध्यप्रदेश के भिंड में जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ रमेश दुबे ने भाजपा पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने  जिले के प्रभारी मंत्री उमाशंकर गुप्ता को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि  दो दर्जन कामो का शिलान्यास,लोकार्पण, भूमि पूजन करने तीन दिन तक जिले के प्रवास पर हैं।।यह सब महज एक ढकोसला है।। उमाशंकर गुप्ता ने अपने प्रभारी मंत्री होने के दायित्व का पूर्ण निर्वहन नही किया है।।जिन दो दर्जन कामों का लोकर्पण, शिलान्यास,भूमिपूजन किया जाना है,उनमें कस्बो और गांवों की सड़कें,शाला भवन के कमरों,बाउंड्रीवाल आदि शामिल हैं। यह बहुत ही हास्यास्पद है।

दुबे ने प्रभारी मंत्री से सवाल करते हुए कहा कि भिण्ड जिले की मंडियों में अन्नदाता किसान खुले आसमान के नीचे धूप ,बरसात में बिना पानी,बिना भोजन के 72 घण्टे से पड़ा हुआ है। प्रभारी मंत्री ने इनकी सुध क्यों नही ली। प्रभारी मंत्री जिन छोटे छोटे कार्यो का लोकार्पण,शिलान्यास, भूमि पूजन करने आये है,वो तो ग्राम पंचायतो के सरपंचों,नगर पंचायतों ,नगर पालिकाओं के अध्यक्षों, और विधायक गणों के स्तर के हैं, उन्हें ही इनका शुभारंभ करना चाहिए था, क्योंकि यह सभी कार्य मेहगांव, भिण्ड ,अटेर के ग्राम पंचायत सरपंचों, नगर पंचायत,नगर पालिका अध्यक्षों,और विधायक के क्षेत्र के है और उन्ही के प्रयासों से हुए हैं।

उन्होंने कहा कि भिण्ड जिले की जनता मूलभूत सुविधाओ से तो वंचित है ही उसके साथ साथ तमाम अन्य महत्वपूर्ण समस्याओ से ग्रसित  है। स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार, रेल यातायात, क्वांरी नदी, चम्बल नदी के जर्जर हो रहे पुलों पर यातायात का आये दिन बाधित होना, कृषि योजनाओं का लाभ किसानों तक नही पहुंचना, आदि कई ज्वलन्त समस्याएं थीं, जिनको दूर करने के लिए प्रभारी मंत्री को सार्थक पहल करनी चाहिए थी। जिससे इस जिले की आम जनता को लाभ पहुंचता लेकिन ऐसा न करके,शासन का लाखों रुपया बरबाद करके प्रभारी मंत्री जिले के तीन दिन के प्रवास पर रहकर छोटे छोटे कार्यो का शिलान्यास, लोकार्पण, भूमिपूजन करके चुनाव से पूर्व विकास कार्यो की झूठी डुग डुगी बजाकर ढकोसला करते हुए आम जनता को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं।

दुबे ने कहा कि पूरे भिण्ड जिले मे हाहाकार मचा हुआ है। जिला मुख्यालय भिण्ड शहर में सीवर प्रोजेक्ट निर्माण का जो काम किया जा रहा है वो अमानक स्तर का निर्माण है।।जो भी व्यक्ति सीवर प्रोजेक्ट के विरुद्ध आवाज उठाता है,उसे जान से मारने की धमकी दी जा रही है। अवन्ति बाई चौराहे से लेकर किलरोड तक कि शहर की मुख्य सड़क का निर्माण अब तक पूरा नही हुआ। इसका भी लोकार्पण प्रभारी मंत्री  कर देते। इस इलाके की जनता परेशान होकर नर्क जीवन जीने को मजबूर है।