Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

व्यापमं : सीबीआई ने एक और छात्र को बनाया आरोपी, तलाश में भिंड पहुंची टीम

भोपाल/भिंड।

सीबीआई द्वारा व्यापमं घोटाले की जांच लगातार जारी है। इसी कड़ी में सीबीआई एक अन्य आरोपी की तलाश में भिंड पहुंची है। आरोप है कि भिंड के रहने वाले अवधेश सिंह भदौरिया ने साल 2011 में संविदा शिक्षक वर्ग-3 पात्रता परीक्षा में फर्जी तरीके से अंक बढ़वाए थे। सीबीआई के सब इंस्पेक्टर शैलेंद्र यादव उसी की तलाश में गुरुवारा देर रात भिंड़ पहुंचे । आज दिनभर सीबीआई यहां रहकर उसकी पूछताछ करेगी ।हालांकि अभी तक पुलिस को कोई सुराग हाथ नही लगा है लेकिन तलाश जारी है।इस सिलसिले में डीएसपी भारतेंद्र शर्मा भी भिंड आएंगें और कैंप करके आरोपी को तलाश करवाएंगे।

दरअसल, साल 2011 में व्यापमं द्वारा संविदा शिक्षक वर्ग-3 पात्रता परीक्षा आयोजित की गई थी। इस परिक्षा में भिंड निवासी अवधेश सिंह भदौरिया पुत्र रिषपाल सिंह भदौरिया ने परीक्षा दी थी। इसमें अवधेश को कुल 43 अंक मिले थे, जिसके चलते उसको नौकरी मिलना मुमकिन नही था। इसलिए अवधेश ने फर्जी तरीके से  पैसे देकर अंकों में बढोत्तरी करवा ली। जिसके बाद अवधेश के अंक 43 से बढ़कर 111 कर दिए गए। हालांकि इतने अंक होने के बावजूद भी अवधेश संविदा शिक्षक नहीं बन पाया था।सीबीआई ने अवधेश को इस मामले में आरोपी बनाया है। मामले की जांच कर रही सीबीआई के सब इंस्पेक्टर शैलेंद्र यादव ने भिंड में आरोपी को तलाश किया है।लेकिन उनके हाथों कोई सुराग नही लगा।व्यापमं घोटाले के आरोपी अवधेश सिंह भदौरिया की तलाश में आए सीबीआई के सब इंस्पेक्टर यादव ने निर्वाचन कार्यालय में आरोपी के वोटर कार्ड की तलाश की। सीबीआई के पास मौजूद अवधेश के पते पर वोटर लिस्ट में कहीं पर भी अवधेश सिंह भदौरिया पुत्र रिषपाल सिंह भदौरिया नाम के युवक का नाम नहीं मिला है। आज इसी सिलसिले में डीएसपी यहां पहुंचेंगें और कैंप लगाकर आरोपी की तलाश करेंगें। 

सुत्रों की माने तो सीबीआई अवधेश को पकड़कर उस रैकेट तक पहुंचना चाहती है,जिसने उसके नबंर बढ़वाए थे।सीबीआई को भरोसा है कि रैकेट के द्वारा वे अागे की कड़ी को सुलझा पाएंगे और कई बड़े नामों का भी खुलासा हो सकेगा।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...