किस मंत्री ने पकड़े ओवरलोड ट्रक, किसने कहा-'बड़ी मेहनत से लाते हैं सड़कें बनाने का पैसा'

भिण्ड | नर्मदा घाटी विकास और सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री लाल सिंह आर्य आज जब गोहद पहुंचे तो शहर की नवनिर्मित सडकों को उखडी देखा और सडको पर दौड़ते ओवरलोड वाहनों को देखा तो उनका पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया और पुलिस के आला अधिकारियो को मोके पर बुलाया औऱ चेंकिग लगा कर एक दर्जन बाहनो को पकडवा कर थाना परिसर में रखवा दिया औऱ आगे की कार्यवाही के लिये कडे निर्देश दिये|

दरअसल गोहद इलाके में अबैध खनन औऱ ओवर लोडिग की शिकायतें लगातार मिलने के बाद भी पुलिस के अधिकारी कोई कार्यवाही नही करने के चलते शहर की सडकें ध्वस्त होती जा रही है| मंत्री जी की माने तो गोहद की सडके खराब करने में ओवरलोड वाहनो का बडा हाथ है और लगातार शिकायतों के बाद भी पुलिस कोई कार्यवाही नही कर रही है तो उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया औऱ पुलिस के आला अधिकारियो को मौके पर बुलाया और कडी फटकार लगाते हुये एक दर्जन ओवरलोड बाहनों को पकडवा कर आगे की कार्यवाही के लिये कडे निर्देश दिये हैं।

ज्ञात हो कि भिंड जिले में रेत और पत्थर के खदानों से ओवरलोड वाहनों का आवागमन बड़ी संख्या में किया जाता है | ओवरलोडिंग को रोकने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस विभाग दिखावे के लिए कभी-कभी कार्रवाई तो करते हैं लेकिन ओवरलोडिंग को रोकने की आड़ में लाखों करोड़ों रुपए की उगाही पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन के द्वारा की जाती है|  सरकारी आंकड़ों के मुताबिक सैकड़ों वाहन पकड़े जाते हैं उन पर जुर्माना भी किया जाता है लेकिन बाद इसके भी थानों के सामने से गुजरने वाले इन वाहनों से खाकी बालों की कमाई लाखों-करोड़ों में होती है। ऐसे में प्रदेश सरकार के एक मंत्री के द्वारा ओवरलोड चंद ट्रकों का पकड़ा जाना क्या यह सवालिया निशान खड़ा नहीं करता है कि आखिर चुनाव के ऐन पहले मंत्री जी को अपने क्षेत्र की टूटी सड़कों की कैसे याद आ गई जबकि लहार से कांग्रेस नेता डॉक्टर गोविंद सिंह इन्हीं मंत्री महोदय पर कई बार गोहद में पत्थर के अवैध उत्खनन करवाने के आरोप लगा चुके हैं।