'लोकतंत्र का देखो आया त्यौहार' एक शिक्षक के इस गाने से जागरूक होंगे वोटर्स

 भिंड |शिक्षक का कार्य विद्यार्थी को शिक्षित करने के अलावा समाज की सर्वोन्मुखी प्रगति का वाहक बनना है और नवाचार इसकी नियति में है, ऐसे ही भिंड में रहने वाले एक शिक्षक गगन शर्मा जिनका उद्देश्य समाज को शिक्षित करने के आलावा लोगों में कुंठित मानसिकता को समाप्त करने का भी है, आज शहर भर में शिक्षक श्री शर्मा किसी परिचय के मोहताज नहीं, आज उन्होंने समाज के मतदाताओं को जागरूक करने के लिए एक गीत की प्रस्तुति भिंड के जिला पंचायत सभागार में मौजूद कर्मचारी अधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत की| गीत के बोल कुछ इस प्रकार थे


 'लोकतंत्र का देखो आया त्यौहार'

'पांच बरस में आता है एक बार'

 सभी लोगों ने लोकगीत को सुनकर ,तालियों की गड़गड़ाहट से उनका अभिवादन किया और खुले दल से तारीफ़ भी की|

 यहाँ बता दें कि श्री शर्मा भिंड के गाँव  नुन्हाटा में शासकीय विद्यालय में बतौर बीएसी पदस्थ हैं,बीते वर्ष गगन ने तत्कालीन कलेक्टर इलैया राजा टी के कुशल निर्देशन में नक़ल की रोकथाम अभियान कके लिए एक गीत लिखा और गया था जो बहुत प्रचारित और लोकप्रिय हुआ, जिसका यहां के जनमानस पर बड़ा असर पड़ा,  आज नकल पर लगभग पूर्ण रूप से विराम भी लग चुका है, इस अवसर पर नवाचारी शिक्षक गगन ने निसंकोच कलेक्टर इलैया राजा की तारीफ करते हुए कहा कि मुझे गाने में रूचि थी लेकिन सर ने मुझे एक बार मौका दिया और तभी आज मैंने नवागत कलेक्टर आशीष कुमार गुप्ता  के समक्ष भी अपना गीत प्रस्तुत करने में सफल हो सका।