Breaking News
जूडा का अनोखा विरोध, MYH के सामने लगाई समानांतर ओपीडी | संगठन नहीं शिवराज के चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगी भाजपा | अटकलों पर लगा विराम, किसी भी कीमत पर नही बिकेगा किशोर कुमार का पुश्तैनी घर | अंतर्राज्यीय चंदन तस्कर गिरोह का पर्दाफाश, वर्दी का रौब दिखाकर करते थे तस्करी | शर्मनाक : 4 साल की मासूम से दुष्कर्म की कोशिश, आइसक्रीम का लालच देकर ले गया था आरोपी | दर्दनाक हादसा : स्कूल जा रहे बच्चों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत, | नपा के खिलाफ ठेकेदार ने शुरु की लोटन यात्रा, CMO बोले- नही मिलेगा एक भी पैसा | VIDEO : सरकार के खिलाफ कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, आम चूसकर गुठलियां फेंकी | शिवराज जी, आप चिंता छोड़ जनआशीर्वाद यात्रा निकाले, मैं जनता को बताउंगा सच्चाई : कमलनाथ | आज से जूडा का आंदोलन शुरु, मांगे पूरी ना होने पर दी हड़ताल की चेतावनी |

2019 में बढ़ेगी मेडिकल कॉलेजों की 450 सीटें

भोपाल

अगले साल से मेडिकल कॉलेजों की सीटों में बढोत्तरी की जाएगी। चिकित्सा शिक्षा प्रदान करने के लिये इंडियन कॉउंसिल ऑफ मेडिकल  साइंसेज  के निर्धारित मापदण्ड पूरे करने पर निर्धारित सीट की स्वीकृति मिल गई है।जिसके तहत प्रदेश में संचालित मेडिकल कॉलेज में वर्ष 2019-20 से एमबीबीएस स्नातक पाठयक्रम में 450 सीट की वृद्धि की जाएगी। जिसके बाद वर्ष 2019-20 में एमबीबीएस स्नातक पाठयक्रम में कुल सीट 1350 हो जायेंगी। 

दरअसल, वर्तमान में 7 मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की 900 सीट उपलब्ध हैं। मेडिकल कॉलेज भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर में वर्तमान सीट 150 से बढ़ाकर 250 सीट की जा रही है। इसी प्रकार रीवा में 100 से बढ़कर 150 सीट हो जायेगी।  इंडियन कॉउंसिल ऑफ मेडिकल  साइंसेज  के मापदण्ड के अनुरूप मेडिकल कॉलेज द्वारा आवश्यक शिक्षकों की नियुक्ति, उपकरण क्रय संबंधी तैयारी पूरी हो चुकी है। आवश्यक अधोसंरचना और सिविल कार्य दिसम्बर 2018 तक पूरे किये जा रहे हैं। 

बता दे कि इसके लिए चिकित्सा मेडिकल कॉलेजों को भारत सरकार की योजना में 75 करोड़ रूपये की राशि मिली है। इसमें केन्द्र सरकार द्वारा 60 प्रतिशत और राज्य सरकार द्वारा 40 प्रतिशत राशि व्यय की जा रही है।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...