यहां भाजपा और कांग्रेस नेताओं में हुआ विवाद, मौके पर पहुंची पुलिस

भोपाल| लोकसभा चुनाव के छठे चरण में हो रहे मतदान के दौरान कई जगह विवाद की खबरें हैं| भोपाल में भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच विवाद हो गया|  विवेकानद मतदान केंद्र में कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ता आमने सामने आ गए। कांग्रेस का आरोप है कि मतदान केंद्र परिसर में भाजपा को वोट देने के साथ 2 नंबर बटन दबाने के लिए जोर दिया जा रहा था। मतदाताओं का नाम पता भी नोट किया जा रहा था। इस दौरान कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं में जमकर विवाद हुआ। सूचना मिलने पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए थे, इसके बाद भाजपा एजेंट को मतदान केंद्र से बाहर किया गया

वहीं गोविंदपुरा विधानसभा के बूथ क्रमांक 275 भोपाल पब्लिक स्कूल में साइन मैच ना होने के कारण एजेंट को बैठने नहीं दिया गया। बूथ क्रमांक 343 आरआरएल गोविंदपुरा विधानसभा मशीन काम नहीं कर रही। बूथ क्रमांक 132 इंद्रपुरी में मतदान बहुत धीरे चल रहा है। इरिगेशन बूथ क्रमांक 129 की मशीन बंद है। वहीं भोपाल में गोविंदपुरा विधानसभा के बूथ क्रमांक 326 में भाजपा के 2 कार्यकर्ता घनश्याम साहू और धर्म वीर को बागसेवनिया पुलिस ले गई। वहीं दक्षिण पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के बूथ क्रमांक 57 में कार्यकर्ता नईम अंसारी को कमला नगर पुलिस ले गई।


मंत्री के भाई पर पोलिंग एजेंट को धमकाने के आरोप 

इससे पहले सुबह भोपाल के डीआईजी बँगला क्षेत्र में पोलिंग बूथ पर हंगामा हुआ है| यहां बीजेपी के पोलिंग एजेंट को हथियार से मारने की धमकी देने के आरोप लगाए हैं| महापौर आलोक शर्मा मौके पर पहुंचे|   शर्मा ने आज यहां आरोप लगाते हुए कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में राज्य सरकार के एक मंत्री के भाई ने उनकी पार्टी के पोलिंग एजेंट को धमकाया है। शर्मा ने यहां गौतम नगर थाने के पास मीडिया से कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में कुछ मतदान केंद्रों पर भाजपा के पोलिंग एजेंट के रूप में अंकित साहू, पंकज साहू और आकाश प्रजापति को तैनात किया गया था। वहां पर राज्य सरकार के मंत्री आरिफ अकील के भाई आमिर अकील पहुंचे और उन्होंने पोलिंग एजेंट को धमकाते हुए केंद्र से बाहर करने का प्रयास किया। सूचना मिलने पर वे स्वयं मतदान केंद्र तक पहुंचे। आलोक शर्मा ने आरोप लगाया कि विधायक आरिफ अकील के भाई ने आते ही मतदान स्थल पर आकर पोलिंग एजेंट को धमकाया और गाली गलौज किया| चार पोलिंग एजेंट को बाहर निकल दिया गया है| मौके पर पुलिस ने मामला सम्भाला, एडीएम चरों पोलिंग एजेंट को साथ ले गए| महापौर आलोक शर्मा नेताओं के साथ पहले मतदान केंद्र पहुंचे फिर थाने गए। मंत्री आरिफ अकील के भाई आमिर अकील पर धमकाने का आरोप।

"To get the latest news update download the app"