गृह मंत्रालय ने जारी किया अलर्ट, काउटिंग के दिन हिंसा की आशंका

भोपाल।  लोकसभा चुनाव की मतगणना 23 मई को होगी। इससे पहले गृह मंत्रालय ने देश के अलग अलग हिस्सों में हिंसा की आशंका जाहिर की है। जिसे लेकर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए चेतावनी जारी की है। मध्य प्रदेश में भी कई जगह मतदान के दौरान झड़प और विवाद की स्तिथि बनी थी, और चुनाव आयोग द्वारा भिंड मुरैना के कई पोलिंग बूथों को संवेदनशील माना था| ऐसे में प्रदेश में भी मतगणना के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं| 

गृह मंत्रालय ने राज्यों को चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी को इस बारे में कानून व्यवस्था चाक चौबंद करने के लिए निर्देश दिए हैं। गृह मंत्रालय ने स्ट्रांग रूम की खासतौर से निगरानी रखने के लिए कहा है। यह अलर्ट उस समय आया है जब देश के अलग अलग हिस्सों से मतगणना के दिन हिंसा होने के इनपुट मिले हैं। जिसे देखते हुए गृह मंत्रालय ने एडवायजरी जारी की है। बता दें पूर्व केंद्रीय मंत्री और महागठबंधन के घटक रालोसपा के सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा ने मंगलवार को एक्जिट पोल के नतीजे से नाराजगी जताते हुए कहा कि भाजपा रिजल्ट लूटने की कोशिश कर रही। उसके इस रवैये से सड़कों पर खून बहेगा। उनके इस बयान से बिहार में राजनीतिक बवाल मचा हुआ है।

वहीं, बंगाल में भी बीजेपी ने चुनाव आयोग से पुनर्मतदान करवाने की मांग की है। इससे पहले भी अमित शाह के प्रचार के दौरान बंगाल में हिंसा हो चुकी है। जिसे देखते हुए चुनाव आयोग ने सभी दलों के प्रचार पर रोक भी लगाई थी। अब मतगणना को लेकर भी सभी दलों के कार्यकर्ता सक्रिय हैं। ऐसे में किसी भी तरह की कोई हिंसा या फिर अव्यवस्था न हो गृह मंत्रालय ने एक दिन पहले चेतावनी दी है। 

"To get the latest news update download the app"