रिजल्ट से पहले हलचल तेज, एग्जिट पोल पर क्या कहते हैं एमपी के नेता

भोपाल।

लोकसभा के अंतिम चरण के वोटिंग के साथ ही विभिन्न चैनलों की तरफ से एग्जिट पोल जारी कर दिया गया है। Exit Polls के नतीजों से बीजेपी को राहत मिली है वही कांग्रेस को झटका लगा है। रुझानों में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिल रहा है और एक बार फिर देश में भाजपा की सरकार बनने जा रही है। वही नेताओं की प्रतिक्रियाओं का भी दौर शुरु हो गया है। एक्जिट पोल के बाद जहां शिवराज बीजेपी को अकेले 300 के आस-पास सीटें और एनडीए को 350 से 400 सीटें मिलने का दावा कर रहे है।वही सीएम कमलनाथ का कहना है कि 2004 और  2018 में भी हमने एक्जिट पोल के नतीजे देखे, जो सब कांग्रेस की हार दिखा रहे थे, लेकिन हकीकत कुछ और थी। इसके अलावा वरिष्ठ नेता दिग्विजय ने दावा किया है कि एमपी में कांग्रेस 14 से 17 सीटें जीतने वाली है। हालांकि एमपी में किसको कितनी सीटे मिलेगी और देश में किसकी सरकार बनेगी, इसके लिए २३ मई के नतीजों का इंतजार करना होगा, इसके बाद ही तस्वीर साफ हो पाएगी।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि देश में मोदी की लहर नहीं सुनामी चल रही है।  पीएम मोदी देश के जन-जन में बसे हैं। पीएम ने देश का मान-सम्मान विदेशों में भी बढ़ाया है, जिसकी वजह से जनता ने पीएम मोदी को एक बार फिर मौका देने का निर्णय किया है। पूर्व सीएम ने दावा किया है कि बीजेपी को अकेले 300 के आस-पास सीटें मिलेंगी, जबकि एनडीए को 350 से 400 सीटें मिलने का अनुमान है।  वही कमलनाथ ने ट्वीटर पर लिखा है कि लिखा है कि हमने सारे एग्जिट पोल्स 2004 में भी देखे थे, 2018 के पाँच राज्यों के चुनाव के समय भी देखे थे, सब कांग्रेस की हार दिखा रहे थे, पर परिणाम सभी ने देखे। 23 मई का इंतजार करिये, सारी हक़ीकत सामने आ जाएगी। कांग्रेस की सीटें निश्चित ही बढ़ेगी, भाजपा के नारों-जुमलों की हक़ीकत भी सामने आयेगी। 

कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रिया

एमपी में जीतेंगे 14 से 17 सीटें-  दिग्विजय सिंह

इस मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि मैं प्री और पोस्ट पोल सर्वे पर विश्वास नहीं करता हूं। जनता के पोल पर भरोसा करता हूं. 23 मई को मतदान पेटी खुलने के बाद ही स्थित साफ होगी। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस 14 से 17 सीटें जीतने वाली है। देश में 2004 जैसा माहौल है इसलिए कुछ भी कह पाना मुश्किल है।23 तारीख को मतगणना के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी।

23 तारीख याद रखें भाजपा जाएगी नई सरकार आएगी - जीतू पटवारी

एग्जिट पोल को लेकर कमलनाथ सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री मंत्री जीतू पटवारी का का कहना है कि बिहार में जिस तरह का एग्जिट पोल आया था वह किसी से छिपा नहीं है। एग्जिट पोल ने बताया क्या था और निकला किया था। इसी तरह मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की एग्जिट पोल की रिपोर्ट सही नहीं निकली थी। भारत विविधताओं का देश है। एक ऑस्ट्रेलिया हर साल यहां पैदा होता है , इस तरह के एग्जिट पोल पर भरोसा नहीं किया जा सकता है।

बीजेपी नेताओं की प्रतिक्रिया

23 मई को अनेक अहिल्याओ का उद्धार मोदी के चरण स्पर्श से होगा- भार्गव

पहले से ही तय था कि केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनेगी लेकिन समाचार चैनलों और सर्वे एजेंसियों के एग्जिट पोल ने यह साबित कर दिया है कि देश मे मोदी का कोई विकल्प नहीं हैं।मोदी उस पारस पत्थर की तरह है जिसके छूने मात्र से पत्थर भी सोना बन जाता है, मोदी जी किसी सरपंच और पार्षद की हैसियत के व्यक्ति को भी सांसद बनाने की क्षमता रखते हैं। 23 मई को आने वाले चुनाव परिणामों में अनेक अहिल्याओ का उद्धार मोदी जी के चरण स्पर्श से हो जाएगा।

350  सीटे जीतकर बनाएंगे फिर सरकार-राकेश सिंह

 वही प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने 350  सीटों के साथ सरकार बनाने का दावा किया है। सिंह का कहना है कि जनता ने मोदी द्वारा खींचे गए नवभारत के निर्माण के खाके को न केवल ठीक से समझा,बल्कि वह समर्थन में आगे भी आ रही है।यही वजह है कि नवमतदाताओं के साथ समाज के हर वर्ग के लोग वोट देने बाहर निकले हैं।एमपी में मतदान प्रतिशत में 10% की अभूतपूर्व वृद्धि हुई है।पूरे देश से एक्जिट पोल के जो नतीजे आए, वह भी बीजेपी के नेतृत्व में NDAसरकार बना रहे हैं। हमारा विश्वास है कि भाजपा 300+ व NDA 350+सीटें जीतकर एक मजबूत सरकार बनाएगा। मध्यप्रदेश में भी भारतीय जनता पार्टी पिछली बार से अधिक सीटें  लाकर जबरदस्त प्रदर्शन करने जा रही है।

क्या कहता है एक्जिट पोल

सभी एग्जिट पोल भाजपा के लिए 22 से 27 और कांग्रेस के लिए दो से सात सीटें मिलने की संभावनाएं जता रहे हैं। सभी पोल में भाजपा क्‍लीन स्‍वीप करती नजर आ रही है।

-टुडेज चाणक्य पोल के मुताबिक, प्रदेश में 2014 का आंकड़ा ही दोहराए जाने की उम्मीद है

-।पोल कहता है कि साढ़े चार माह पहले हुए विधानसभा चुनाव से उलट लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश से भाजपा को 27 और कांग्रेस को दो सीटें मिलने की उम्मीद है।

-न्यूज 18 नेटवर्क के आईपीएसओएस के एग्जिट पोल में भी कमोबेश यही स्थिति है। इस सर्वे में भाजपा को 24 से 27 और कांग्रेस को दो से चार सीटें मिलने की उम्मीद है।

-एबीपी न्यूज के नतीजे जरूर कांग्रेस को राहत देने वाले हैं। इस चैनल ने भाजपा को 22 और कांग्रेस को सात सीटें मिलने की उम्मीद जताई है।

-सी वोटर ने मप्र में भाजपा को 24 और कांग्रेस को पांच सीटें मिलने का अनुमान जताया है।

-आजतक/एक्सिस माइ इंडिया के अनुसार BJP को मध्य प्रदेश में 26 से 28 सीटें मिल सकती हैं। तो वहीं कांग्रेस सिर्फ 1 से 3 सीटों पर सिमट सकती है।


"To get the latest news update download the app"