पीएम मोदी की 'नई दुल्हन' से तुलना वाले बयान पर सिद्धू को क्लीनचिट

भोपला।  पंजाब सरकार के मंत्री एवं कांग्रेस के स्टार प्रचारक नवजोत सिंह सिद्धू को आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में चुनाव आयोग से क्लीनचिट मिल गई।  निर्वाचन आयोग का मानना है कि सिद्धू ने व्यक्तिगत जीवन पर आक्षेप नहीं लगाया था। कार्य प्रणाली पर मुहावरों का उपयोग किया था, जिसको उल्लंघन नहीं माना जा सकता है। उन्होंने 11 मई को इंदौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कामकाज की तुलना दुल्हन से की थी। इस मामले में भाजपा की शिकायत पर चुनाव आयोग ने रिपोर्ट तलब की थी।

इंदौर कलेक्टर ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को सौंपी रिपोर्ट में सिद्धू की टिप्पणी को बातचीत में इस्तेमाल की जाने वाली लोकोक्ति बताते हुए आचार संहिता का उल्लंघन नहीं माना। रिपोर्ट को चुनाव आयोग भेजा गया है।  भाजपा ने चुनाव आयोग में कांग्रेस के स्टार प्रचारक नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत की थी। इसमें कहा गया कि प्रधानमंत्री को लेकर सिद्धू ने आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया। इस पर इंदौर कलेक्टर से रिपोर्ट मांगी गई थी, जो बुधवार देर शाम मिली। यहां बता दें कि सिद्धू ने प्रधानमंत्री के कामकाज की तुलना यह कहते हुए की थी कि 'मोदीजी उस दुल्हन की तरह हैं, जो रोटी कम बेलती है और चूडिय़ां ज्यादा खनखनाती है, ताकि मोहल्ले वालों को यह पता चले कि वह काम कर रही है।  

यह बोले थे सिद्धू 

पंजाब के मंत्री व कांग्रेस के स्टार प्रचारक नवजोतसिंह सिद्धू ने गत दिनों इंदौर में सभाएं और पत्रकारवार्ता ली थी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उन्होंने निशाना साधा। सिद्धू ने कहा था कि मोदी में दम है तो नौकरियों, जीएसटी-नोटबंदी के मुद्दे पर चुनाव लड़ें। वे तो लोगों को बांटकर चुनाव लड़ रहे हंै। एक भी बात आज तक नरेंद्र मोदी ने विकास को लेकर नहीं की है। बात-बात में उन्होंने कह दिया था कि नरेंद्र मोदी ऐसी दुल्हन है जो रोटी कम बेलती है और चूडिय़ां ज्यादा खनकाती है ताकि लोगों को पता चल सके कि काम हो रहा है।


"To get the latest news update download the app"