वोट डालने राघौगढ़ नहीं जाएंगे दिग्विजय, भोपाल में मतदान केंद्रों की अव्यवस्था से नाराज

भोपाल। मध्य प्रदेश की आठों सीटों पर मतदान जारी है। रविवार होने की वजह से लोग बड़ी संख्या में सुबह से ही पोलिंग बूथ पर वोट डालने पहुंच रहे हैं। कई लोग तो ऐसे हैं जो केवल वोट देने के लिए अलग-अलग शहरों से अपने घर पहुंच रहे है, लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अब तक राघौगढ़ वोट डालने नही पहुंचे है, वे भोपाल में ही रहकर मतदान केन्द्रों पर हो रही गतिविधियों पर नजर जमाए हुए है। सुबह से हो रही मतदान केन्द्रों पर अव्यवस्था से दिग्विजय नाराज है। वही उनकी पत्नी अमृता सिंह ने भोपाल में वोट डाल दिया है। दिग्विजय लगातार मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर पूरे चुनाव पर नजर बनाये हुए हैं| 

दरअसल, कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भले ही चुनाव भोपाल से लड़ रहे हो लेकिन वे असल में राधौगढ के वोटर है। लेकिन इस बार वे  वोट डालने राधौगढ़ नहीं जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भोपाल में मतदान केंद्रों की खराब व्यवस्थाओं से दिग्विजय नाराज है, सुबह से ही कई मतदान केन्द्रो पर ईवीएम के खराब होने की खबर है, साथ ही बीजेपी ने मंत्री के भाई पर एजेंट से मारपीट का भी आरोप लगाया है।  वही दूसरी वजह यह है कि उन्हें आज सुबह हेलिकॉप्टर से मतदान करने राजगढ़ जाना था लेकिन प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। जिसके चलते उन्होंने वहां जाने का प्रोग्राम ही कैंसिल कर दिया। सुत्रो की माने तो अगर दिग्विजय कार से राधौगढ़ जाते है तो उन्हें ज्यादा समय लगेगा, ऐसे में भोपाल के मतदान केन्द्रों पर नजर रखना कठिन होगा, इसलिए संभव है कि वे मतदान करने नहीं जाएं। बताया जा रहा है कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब दिग्विजय सिंह वोट नहीं डाल पाएंगे। उनकी पत्नी अमृता सिंह ने भोपाल में मतदान किया है। बता दें कि भोपाल सीट के चुनाव पर देश भर की नजर टिकी| कांटे भरे इस मुकाबले में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और दिग्विजय सिंह में मुकाबला है| 


सुबह से अबतक भोपाल लोकसभा सीट की गतिविधियां

-भोपाल में जेपी नगर में नवीन हाई स्कूल में बने मतदान केंद्र पर एक मतदाता भाजपा का चिन्ह प्रिंट वाली टीशर्ट पहलकर मतदान करने पहुंचा। पुलिस ने टीशर्ट उतरवाई। 

-मतदान केंद्रों का जायजा लेने निकले दिग्विजय सिंह ने कहा है कि निर्वाचन आयोग की तैयारियां ठीक तरह से नहीं होने के कारण मतदाता परेशान हो रहे हैं। मतदान केंद्रों पर पीने तक का पानी नहीं हैं। 

-भोपाल जनसंर्पक केंद्र 152 में हंगामा, सुरक्षाकर्मियों पर महिला मतदाताओं से अभद्रता करने का आरोप। महिलाओं ने कहा गालियां दीं। प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पहुंचे। करीब एक घंटे मतदान नहीं हुआ।

-भोपाल के महापौर एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता आलोक शर्मा ने आज यहां आरोप लगाते हुए कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में राज्य सरकार के एक मंत्री के भाई ने उनकी पार्टी के पोलिंग एजेंट को धमकाया है।

-शर्मा ने यहां गौतम नगर थाने के पास मीडिया से कहा कि पुराने शहर के आरिफ नगर क्षेत्र में कुछ मतदान केंद्रों पर भाजपा के पोलिंग एजेंट के रूप में अंकित साहू, पंकज साहू और आकाश प्रजापति को तैनात किया गया था। वहां पर राज्य सरकार के मंत्री आरिफ अकील के भाई आमिर अकील पहुंचे और उन्होंने पोलिंग एजेंट को धमकाते हुए केंद्र से बाहर करने का प्रयास किया। सूचना मिलने पर वे स्वयं मतदान केंद्र तक पहुंचे।

-मशीन में खराबी की वजह से कई जगह समय पर शुरू नहीं हुआ मतदान। भोपाल में बूथ क्रमांक 154, 348 बरकतउल्ला विश्वविद्यालय की वोटिंग मशीन में खराबी आने की वजह से वोटिंग समय पर शुरू नहीं हो सकी।

-चार इमली के मतदान केंद्र पर भी समय पर मतदान शुरू नहीं हो पाया, इसी पर निर्वाचन अधिकारी वीएल कांताराव सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी यहां मतदान करने पहुंचे।

-भोपाल में बूथ क्रमांक 217,218,219,220 पर भी मतदान समय पर शुरू नहीं हो सका है, यहां मतदाताओं की लंबी कतार लगी है।

-कोलार में साईं नाथ नगर के मतदान केंद्रों पर साढ़े छह बजे से लंबी लाइन लगी है।

"To get the latest news update download the app"