अलर्ट: ‘तितली’ तूफान का मध्यप्रदेश में दिखा असर, यहां होगी बारिश

भोपाल। देश भर में तितली तूफान ने तबाही मचा दी है। सबसे ज्यादा प्रभाव ओडिशआ और आंध्र प्रदेश में देखने को मिला है। दोनों राज्यों के तटीय इलाकों में तूफान का खतरा अब और बढ़ता जा रहा है। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर लोगों को दूसरे स्थानों पर शिफ्ट करना शुरू कर दिया है। इस दौरान 145 किलाेमीटर की रफ्तार से हवा चल सकती हैं। इसका असर अब एमपी में भई देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक तूफान का असर पश्चिमी मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों में दिखाई पड़ सकता है।

शुक्रवार को  बालाघाट, मंडला, डिंडोरी, अनूपपुर, उमरिया, शहडोल, सीधी और सिंगरौली जिलों के कुछ हिस्सों में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है। शनिवार से मौसम साफ हो सकता है। इस दौरान अगर उत्तरी हवा चली तो प्रदेश में ठंडक का अहसास बढ़ेगा। हालांकि, राजधानी भोपाल में बारिश की संभावनाएं नहीं है। चूंकि, तीन-चार दिन से अधिकतम तापमान बढ़ा हुआ है, ऐसे में शाम के वक्त छुटपुट बूंदाबांदी हो सकती है। लेकिन, इसे चक्रवाती तूफान तितली का असर नहीं कहा जा सकता।

गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने गुरुवार तड़के अपने तेवर दिखाए जिसके चलते काफी संख्या में पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए। ओडिशा के गंजम जिले में तितली ने काफी तबाही मचाई। कुछ झोपड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं लेकिन प्रदेश में कहीं से किसी प्रकार के जान माल के नुकसान की खबर नहीं है। अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बेहद भीषण चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ने ओडिशा के गोपालपुर कस्बे और आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में सुबह साढे़ चार से पांच बजे के बीच में दस्तक दी।