इस चुनाव में राजनीति की भाषा गिरी, पीएम मोदी इसके लिए दोषी हैं: यशवंत सिन्हा

भोपाल| लोकसभा चुनाव को लेकर देश की राजनीति में वार पलटवार का दौर जारी है| अब पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है| उन्होंने कहा  इस चुनाव में राजनीतिक विमर्श की भाषा गिर गई है, जिसके लिए पीएम दोषी है। राजनीति की भाषा गिरती जा रही हैं। असहिष्णुता का माहौल बनता जा रहा है। पिछले 5 साल के क्रियाकलापों पर हो रहा है। यह सरकार बहुत खराब हालत में खजाना छोड़कर जायेगी। भोपाल पहुंचे  यशवंत सिन्हा ने प्रेस वार्ता में पीएम मोदी पर कई आरोप लगाए| उन्होंने ये भी कहा कि UPA की आर्थिक नीति NDA बेहतर थी। उनके अनुसार मोदी के समय से बेहतर मनमोहन सिंह के कार्यकाल में जीडीपी थी, लेकिन मोदी सरकार के दबाव में नीति आयोग ने आंकड़े बदल दिए।

सिन्हा ने कहा सरकार ने जल्दबाजी में सारे नियम लागू किए। यू पी ए के कार्य काल में जो ग्रोथ रेट हुआ है, वो काफी ज्यादा हुआ। मोदी सरकार के 4 साल के जो आंकड़े जारी है वो फर्जी जारी किए गए थे। NSSO की जो रिपोर्ट लीक हुई है, वो बता रही हैं कि सरकार के आंकड़े गलत है। नोट बंदी और जीएसटी के कारण छोटे उद्योग प्रभावित हुआ है। 45 वर्षो मे सबसे कम रोजगार जनरेट हुए है। उन्होंने कहा देश में आज किसानों की स्थिति खराब है। इस चुनाव में पाकिस्तान को मुद्दा बनाया है और चीन का जिक्र भी नहीं आया है। चीन में इनकी छाती कम हो जाती है। 

 यशवंत सिन्हा ने कहा पहले चीन के आंकड़ों पर संदेह होता था, लेकिन अब भारत के आंकड़ो पंर भरोसा नही किया जाता है| चीन डोकलाम मे क्या कर रहा है, इसकी कोई जानकारी नहीं आ रही है। रूस के साथ हमारे व्यापारिक संबंध खराब हो रहे हैं। नॉन इश्यू को इश्यू बनाया जा रहा है। अंक देने के सवाल पर कहा अंक देने का काम मेरा नहीं है। सुषमा स्वराज और अरुण जेटली की कोई औकात नहीं है। वित्त मंत्रालय को पूरी तरह से पीएमओ चला रहा है। देश के 36 आर्थिक अपराध देश छोड़कर जा चुके हैं। मोदी हर परंपरा को तोड़ने का काम कर रहे हैं। पार्टी के आंतरिक लोकतंत्र को शाह और मोदी ने खत्म कर दिया है।

"To get the latest news update download the app"