युवा कांग्रेस के इन दावेदारों ने टिकट के लिए दिया दिल्ली में इंटरव्यू, पूछे गए ये सवाल

भोपाल। कांग्रेस से दावेदारों में दिग्गज नेताओं के साथ युवा कांग्रेस पदाधिकारियों पर टिकट की जुगत में लगे हैं। इन लोगों ने भी दिल्ली में डारे डाल रखा है। लेकिन विधानसभा टिकट पाने की राह इतनी आसान नहीं। लिहाजा पार्टी ने भी दावेदारों को सवाल-जवाब करने के लिए दिल्ली तलब किया। बताया जा रहा है मध्यप्रदेश से दिल्ली पहुंचे 25 पदाधिकारियों से वन-टू-वन चर्चा की गई। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशवचंद  यादव और इंचार्ज सेक्रेटरी कृष्णा अालूबेला ने दावेदारों का इंटरव्यू लिया।

सूत्रों के मुताबिक दावेदारों से तीखे सवाल भी पूछे गए, उनसे पूछा गया कि टिकट की चाहत रखते हो तो चुनाव लड़ने की समझ है क्या। इंटरव्यू के लिए जिन्हें बुलाया गया था उनमें प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष कुणाल चौधरी, पिंटू जोशी, अमित शर्मा, प्रतिभा रघुवंशी, ज्योति पटेल,  अनुराग हजारी, गौरव पटेल, संजय यादव, विजय शर्मा, अभिषेक यादव और भूपेंद्र मरावी, युवा कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सुभाष पटेल भोजपुर सांची से संदीप मालवीय आदि थे। स्क्रूटनी के बाद चयनित नामों को स्क्रीनिंग कमेटी को सौंपेगी, ताकि इन युवाओं को टिकट दिए जाने पर विचार किया जा सके। युवा कांग्रेस ने मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलांगाना के लगभग  100 युवाओं को इंटरव्यू के लिए बुलाया गया था।

दरअसल इस बार कांग्रेस ने टिकट बंटवारे को लेकर नई रणनीति तय की है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने यह बात स्पष्ट करदी है कि वह युवाओं को अब आगे लाना चाहते हैं। लिहाजा इस बार कांग्रेस उन सीटों पर नए युवा चेहरों को उतारना चाहती है जहां वह बीते चार बार से चुनाव हारती रही है।  प्रदेश में ऐसी सीटों की संख्या 50 है। कांग्रेस पार्टी का मानना है कि इन सीटों पर युवा चेहरे और महिलाओं को मैदान में उतारा जाए, ताकि आगामी चुनाव में कुछ सीटें कांग्रेस के खाते में आ सकें। यदि यह सीटें जीती भी नहीं जाती तो उन पर भविष्य की नई लीडरशिप तो तैयार हो।