Breaking News
कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर |

शहीद जितेंद्र सिंह पंचतत्व में विलीन, डेढ़ वर्ष के बेटे ने दी मुखाग्नि, अंतिम यात्रा में गूंजे भारत माता की जय के नारे

भिण्ड - मनीष ऋषीश्वर

छत्तीसगढ़ के सुकमा में शहीद हुए चंबल के वीर जवानों की पार्थिव देह रायपुर से दिल्ली होते हुए भिंड हेलीकॉप्टर के द्वारा लाई गईं। भिंड नगर  के एसएएफ ग्राउंड पर पहुंचकर सीआरपीएफ के आईजी, डीआईजी, कमांडेंट, भिंड कलेक्टर, भिंड एसपी, मुरैना कलेक्टर, मुरैना एसपी सहित बड़ी संख्या में स्थानीय नेताओं और लोगों ने पहुंचकर शहीदों को पुष्प चक्र अर्पित किए। यहीं पर शहीदों को शस्त्र झुका कर सलामी दी गई। इसके बाद सड़क मार्ग से दोनों शहीदों के शवों को उनके निवास पर ले जाया गया है। शहीद जितेंद्र सिंह की शवयात्रा के दौरान भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे जमकर लगाए गए। शमशान घाट पर पूरी रीती रिवाज के साथ शहीद का अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार से पहले जवान को बन्दूकों से सलामी भी दी गयी। जितेंद्र को उनके डेढ़ साल के बेटे द्वारा मुखाग्नि दी गयी। यह देखकर वहां मौजूद सभी लोगों की आंखें नम हो गईं। इस दौरान वीर शहीद जितेंद्र सिंह की अंतिम यात्रा में मध्यप्रदेश सरकार में राज्यमंत्री लालसिंह आर्य , पूर्व सांसद डॉ रामलखन सिंह, पूर्व मंत्री चौधरी राकेश सिंह और स्थानीय विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह , पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष संजीव सिंह उर्फ संजू, कांग्रेस जिलाध्यक्ष रमेश दुबे, रामहर्ष सिंह नपा उपाध्यक्ष रामनरेश शर्मा, बार अध्यक्ष द्वय रामकिशोर भारद्वाज, अनिल चौधरी सहित कलेक्टर इलैया राजा टी एसपी प्रशांत खरे, एसडीएम संतोष तिवारी  सहित बड़ी संख्या अधिकारी, पुलिसकर्मी में लोग शामिल हुए।


शहीद जितेंद्र के नाम से बनेगा पार्क, मार्ग और स्कूल

छत्तीसगढ़ के सुकमा में माओवादी नक्सलियों के द्वारा विस्फोट में देशभर के सीआरपीएफ जवानों के साथ शहीद हुए चंबल की माटी के जितेंद्र सिंह की याद में उनकी ही कॉलोनी चतुर्वेदी नगर में जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया वहां पर एक भव्य पार्क का निर्माण किया जाएगा, साथ ही में किसी एक रोड का नाम शहीद जितेंद्र सिंह मार्ग कहलाएगा और उनके गृह गांव के स्कूल का नाम भी शहीद जितेंद्र सिंह कुशवाह स्कूल कहलाएगा ।यह घोषणा अमर शहीद की अंतिम यात्रा में शामिल होने आए मध्य प्रदेश सरकार के नर्मदा घाटी विकास एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री लाल सिंह आर्य के द्वारा की गई श्री आर्य ने यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा की जो वीर शहीद हम से बिछड़ कर चला गया उसकी पूर्ति तो किसी कीमत पर नहीं हो सकती है लेकिन मध्य प्रदेश सरकार ने उनके परिजनों को उनकी शहादत के सम्मान में 1 करोड़ रुपए देने का काम किया है।


अतिक्रमण से मुक्त हुआ मुक्तिधाम

जिस मुक्तिधाम में शहीद जितेंद्र सिंह का अंतिम संस्कार किया गया वहां पर आज से पहले लोगों के द्वारा विकराल अतिक्रमण कर लिया गया था लेकिन आज जैसे ही यह निर्णय हुआशहीद जितेंद्र का अंतिम संस्कार इस स्थान पर होना है तो जिला प्रशासन और स्थानीय नगर पालिका के द्वारा इस मुक्तिधाम को कुछ ही घंटों में अतिक्रमण से मुक्त कर पूरी तरह से साफ स्वच्छ बना दिया।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...