EVM मुद्दे को लेकर SC की शरण में पहुंची कांग्रेस, अगले हफ्ते होगी सुनवाई

भोपाल।

चुनावों में अब सिर्फ कुछ ही माह का समय बचा है। ऐसे में सत्ता वापसी की तैयारी में जुटी कांग्रेस कोई रिस्क नही लेना चाहती, इसलिए मतदाता सूची और ईवीएम जांच को लेकर सख्त हो चली है। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेेटी की ओर से कमलनाथ ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता और सुधार की मांग की है| इससे पहले एमपी कांग्रेस की टीम दिल्ली में चुनाव आयुक्त से मिलने पहुंची थी और मप्र में मतदाता सूची का फार्मेट बदलने,मतदाता सूची में दावे आपत्तियों का समय बढ़ाने, मंत्रियों के स्टॉफ में पदस्थ अफसरों को चुनाव आयोग में पदस्थ ना किया जाने की मांग की। कमलनाथ ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर वीवीपीएट पर्चियों के सत्यापन की मांग की है।

दरअसल, शुक्रवार को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है।  कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर वीवीपीएटी पर्चियों के सत्यापन की मांग की है और कहा है कि सुप्रीम कोर्ट इलेक्शन कमीशन को निर्देश दे कि EVM में डाले गए वोटों का मिलान VVPAT से किया जाए।  कांग्रेस की इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई को तैयार हो गया है।अब इस मामले में अगले हफ्ते सुनवाई की जाएगी।