MP : मानसून की पहली बारिश का कहर, मासूम समेत 4 की मौत, अगले 24 घंटे ALERT

भोपाल। मध्यप्रदेश में सोमवार को मानसून की पहली बारिश लोगों पर कहर बनकर बरसी और चार लोगों की मौत हो गई। जहां उज्जैन में पुजारी और भिंड़ में एक चार साल का मासूम उफनते नाले में बहा गया वही  बड़वानी में एक मकान ढह गया और छत गिरने से वृद्ध की माैत हो गई। इस दौरान इंदौर की कई निचली बस्तियों मे भी पानी भर गया और आंधी-तूफान से निर्माणाधीन वेयर हाउस के टीन शेड के नीचे दबने से सुपरवाइजर की मौत हो गई। मौसम विभाग की माने तो अगले 24 घंटों  में कई जिलों में भारी बारिश की संभावना है।इसके लिए अलर्ट जारी किया गया है।

दरअसल, सोमवार बालाघाट की ओर से मानसून ने मध्यप्रदेश में दस्तक दी और कई जिलों में झमाझम बारिश हुई। कई सड़कें पानी से लबालब हो गईं।निचली बस्तियों में पानी भर गया, आवाजाही में लोगों को परेशानी होने लगी। तेज हवाओं के कारण वाहन चलाना मुश्किल हो गया औऱ कई घरों के टीन शेड उड़ गए । साथ ही कई जगह पेड़ गिर गए। पानी की निकासी ठीक से नहीं होने के कारण सड़कों पर कई घंटे तक जल जमाव की स्थिति रही। इसी बीच चार लोगों की मौत हो गई।

आंधी के बाद गिरी छत, वृद्ध की मौत

बड़वानी में सोमवार देर रात तेज बारिश और आंधी में एक वृद्ध की मौत हो गई। वृद्ध कालूराम पिता पुनिया निवासी वार्ड 24 रानीपुरा रात में अपने टीन शेड के मकान में सो रहा था। देर रात तेज हवा और बारिश के चलते टीन शेड का कुछ हिस्सा धराशायी हो गया और कालूराम के ऊपर जा गिरा। प्रारंभिक जानकारी में पता चला है कि टीन शेड की छत पर एक पंखा लगा हुआ था। पंखा गिरने के कारण फैले करंट से कालूराम की मौत हुई है। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है।गनिमत रही कि हादसे के दौरान घर में बच्चे मौजूद नहीं थे, नहीं तो वो भी इसका शिकार बन जाते।

उज्जैन में पुजारी और भिंड़ में चार साल का मासूम बहा

उज्जैन जिले के उन्हेंल में तेज बारिश के बाद उफने नाले को पार करते समय एक पुजारी संजय पिता किशोरी लाल पाठक की मौत हो गई।बताया जा रहा है कि पुजारी संजय उन्हेल में लालबाई फूलबाई माता मंदिर का पुजारी था। क्षेत्र में तेज बारिश के बाद बेराउन रोड स्थित नाला उफान पर था। इसी नाले से होकर संजय रात करीब पौने 12 बजे घर जाने के लिए निकले थे। नाला उफान पर होने के बाद भी संजय ने उससे निकलने की कोशिश की। कई लोगों के मना करने के बाद वे कुछ देर तो रुके, फिर साइकिल सहित नाला पार करने लगे। कुछ दूर जाने पर साइकिल अनिंयत्रित हुई तो वे साइकिल सहित नाले में बह गए। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन अंधेरा होने से उन्हें खोज नहीं सकी। मंगलवार सुबह पुलिस ने उनका शव मालीपुरा क्षेत्र के माली धर्मशाला के पीछे नाले किनारे झाड़ियों से बरामद किया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया। 

टीन शेड की नीचे दबने से सुपरवाइजर की मौत

इंदौर में आंधी-तूफान से निर्माणाधीन वेयर हाउस का टीन शेड उड़ गया। इसके नीचे दबने से सुपरवाइजर की देर रात अस्पताल में मौत हो गई। क्षिप्रा थाना पुलिस के अनुसार मृतक मनोहर (42) पिता प्रहलाद पांचाल निवासी गांधी पैलेस है। उसके भाई धीरज ने बताया कि घटना रविवार देर रात क्षिप्रा इलाके में हुई थी। मनोहर सहित चार मजदूर शेड में दब गए। चारों को देवास स्थित अस्पताल ले गए थे। सूचना पर धीरज भी देवास पहुंच गया था। वहां से भाई को लेकर एमवाय अस्पताल आया। यहां देर रात डॉक्टरों ने मनोहर की मौत की पुष्टि कर दी।

अगले 24  घंटो में इन जिलों में अलर्ट

उज्जैन, नीमच, रतलाम, शाजापुर, देवास, मंदसौर, आगर, इंदौर, धार, खंडवा, खरगौन, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, बुरहानपुर के अधिकांश क्षेत्र में। जबलपुर, मंडलवा, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, कटनी, छिंदवाड़ा, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, डिंडौरी, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा जिले के कुछ स्थानों पर बारिश व गरज चमक के साथ बौछारे पड़ने की संभावना है। वहीं रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, भोपाल, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, सीहोर, सागर, पन्ना, टीकमगढ़, दमोह, छतरपुर, गुना, अशोक नगर में कहीं-कहीं बौछारे पड़ सकती है।






"To get the latest news update download the app"