नीमच जेल ब्रेक के मास्टरमाइंड समेत पांच गिरफ्तार, अब तक 7 प्रहरी निलंबित

भोपाल। पुलिस ने नीमच में जेल ब्रेक के मास्टर माइंड विनोद डांगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में जेल ब्रेक की साजिश में उसने कई लोगों के शामिल होने की बात कबूली है। इनमें फरार कै दियों के परिजन भी शामिल हैं। पुलिस अब जेल से भागे कैदियों की तलाश में दबिश दे रही है। इसके अलावा जिला जेल कनावटी के प्रहरी विजेंद्र सिंह (32) पुत्र रामजीलाल धाकड़, ईश्वर सिंह (26) पुत्र परसुराम निवासी कनावटी और दो कैदियों पवन धाकड़ व रामप्रसाद को भी गिरफ्तार किया है। विनोद से पूछताछ के आधार पर सात आरोपितों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। वहीं मामले में महिला जेल प्रहरी सहित 3 और प्रहरियों को निलंबित कर दिया गया है| इन्हें मिलाकर इस केस में अब तक जेल अधीक्षक सहित 7 प्रहरी निलंबित किए जा चुके हैं| लेकिन जेल ब्रेक के 48 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं|

शहर से करीब चार किमी दूर जिला जेल कनावटी से रविवार तड़के तीन से चार बजे के बीच चार कैदी भाग निकले थे। इनकी पहचान नाहर सिंह बंजारा (20), दुबेलाल धुर्वे (19), पंकज मोगिया (21) और लेखराम बावरी (29) के रूप में हुई है। कैदियों ने बैरक नंबर 11 के दो सरिये काटे और बाहर से फेंकी गई रस्सी की मदद से दीवार फांदी थी। इस मामले में लापरवाही के चलते जेल अधीक्षक आरपी वसूनिया, उप जेल अधीक्षक रंभा चौहान और चार संतरियों को निलंबित कर दिया गया था। जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर पुलिस ने सुआखेड़ा के विनोद पुत्र धारा सिंह डांगी को गिरफ्तार किया। वहीं कैदियों की लोकेशन राजस्थान में ट्रेस की है। जिसके बाद उन्हें पकड़ने के लिए टीम रवाना कर दी गई है। पुलिस इस मामले में आज अधिकृत रूप से खुलासा करेगी। इनकी गिरफ्तारी पर 50-50 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया था। 


पहले भी रची थी साजिश

मास्टर माइंड विनोद डांगी और कैदियों ने पहले भी जेल तोडऩे की साजिश रची थी। विनोद मादक पदार्थ तस्करी के आरोप में साढ़े तीन माह जिला जेल में इन कैदियों के साथ बंद था, लेकिन जमानत की आस में घटना को अंजाम नहीं दिया। 11 जून को विनोद जमानत के बाद जेल से बाहर आया और इस साजिश को अंजाम दिया।


अधीक्षक सहित 7 जेल प्रहरी निलंबित

जेल ब्रेक काण्ड में एसपी ने काम में लापरवाही बरतने पर महिला जेल प्रहरी सहित 3 और प्रहरियों को निलंबित कर दिया है| इसे मिलाकर इस केस में अब तक 7 प्रहरियों को निलंबित किया जा चुका है| 2 जेल प्रहरियों को कल 24 जून को धारा 120 बी के गिरफ्तार किया गया है| जेल अधीक्षक वसूनिया को रविवार को ही सस्पेंड कर दिया गया था|

"To get the latest news update download the app"