Breaking News
अब मंत्री-परिषद के सदस्य उतरेंगें सड़कों पर, जनता को समझाएंगे 'सड़क सुरक्षा' के नियम | 28 सितंबर को फिर भारत बंद का ऐलान, इसके पीछे ये है वजह | 12वीं पास के लिए सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका, जल्द करें अप्लाई | शर्मनाक : युवक की हत्या के शक में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाया, पथराव-आगजनी, 8 पुलिसकर्मी सस्पेंड | शिवराज कैबिनेट की बैठक खत्म, इन अहम प्रस्तावों को मिली मंजूरी | मॉर्निंग वॉक के दौरान EOW इंस्पेक्टर की मौत, हार्ट अटैक की आशंका | अखिलेश की नजर अब मप्र पर, 3 सितंबर को आएंगें इंदौर | अटल जी के निधन पर पूरे देश में शोक और भाजपा नेता निकाल रहे डीजे यात्रा : कांग्रेस | VIDEO : मोबाईल टॉवर पर चढ़ा शराबी, मचा रहा हंगामा, नीचे उतारने में जुटी पुलिस | चुनावी साल में शिवराज सरकार का मास्टर स्ट्रोक, कुपोषण मिटाने खर्च करेगी 57 हजार करोड़ |

सरकार की वादा खिलाफी से नाराज संविदा कर्मचारी निकालेंगे 'अभिशाप यात्रा'

विदिशा।

संविदा संयुक्त एकता संघ मप्र के बैनर तले संविदा कर्मचारी जबलपुर के बाद अब विदिशा में अभिशाप यात्रा निकालने जा रहे है।यह यात्रा नियमितीकरण और निष्कासित कर्मचारियों की बहाली की मांग को लेकर कल रविवार को निकाली जाएगी, जिसमें प्रदेश के सैकड़ों संविदाकर्मी शामिल होंगें।

संविदा संयुक्त एकता संघ मप्र प्रांताध्यक्ष सौरभ सिंह चौहान ने बताया कि  प्रदेश में1 लाख 80 हजार संविदा कर्मचारी है, जो सरकार द्वारा वादाखिलाफी के चलते नाराज चल रहे हैं।सरकार हर बार मांगों को पूरा करने का आश्वासन देती है, लेकिन कभी इन मांगों को पूरा नही किया जाता। सभी वर्गों की मांगे पूरी हुई है, लेकिन संविदाकर्मियों को सरकार द्वारा नजरअंदाज किया जा रहा है, इसी के चलते संविदाकर्मी अभिशाप यात्रा निकाल रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार तय कर ले आगामी चुनाव में संविदा संवर्ग और परिवारों का उन्हें अभिशाप चाहिए या आशीर्वाद।

उन्होंने मांग की है कि मुख्यमंत्री अपनी घोषणा अनुसार प्रदेश के सभी संविदाकर्मियों को नियमित करें, निष्कासित को बहाल करें अन्यथा जन आशीर्वाद की जगह 1 लाख 80 हजार परिवारों का अभिशाप चुनाव में झेलने को तैयार रहें।इसके बावजूद अगर सरकार ने संविदाकर्मियों की मांगे नही मानी तो जल्द ही पूरे प्रदेश भर में आंदोलन करने को मजबूर होंगें। जहां -जहां जनआशीर्वाद यात्रा होगी वहां वहां संविदा कर्मचारियों द्वारा अभिशाप यात्रा निकालकर विरोध किया जाएगा।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...