MP चुनाव : महिला वोटरों को साधने अब शिवराज सरकार ने बनाया ये प्लान

भोपाल।

मध्यप्रदेश में नवंबर में चुनाव होना है और बीजेपी ने विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। लेकिन नई नई पार्टियों के मैदान में उतरने से पार्टी के माथे पर चिंता की लकीरे उभर आई है।वही आए दिन चैनलों द्वारा किए जा रहे सर्वे ने भी सरकार की नींद उड़ा के रखी वही नोटा का डर भी सरकार पर हावी है। मुकाबला इतना कड़ा है कि दिल्ली के नेता भी मप्र में डेरा डाले हुए है। बावजूद इसके खिसकते जनाधार को देखते हुए बीजेपी ने एक नया प्लान तैयार किया है। पुरुष मतदाताओं के बाद बीजेपी का फोकस महिला मतदाताओं पर है। महिलाओं वोटरों को साधने बीजेपी अब 'रसोई पे चर्चा' का कार्यक्रम शुरु करने जा रही है। इसके माध्यम से महिला कार्यकर्ता पार्टी की उपलब्धियों का बखान करेंगी और बीजेपी के फेवर मे माहौल तैयार करेगी। इसके लिए कुछ बीजेपी की होनहार और तेज तर्रार महिलाओं नेत्री को चुना गया है, जिसमें स्मृति ईरानी , सरोज पांडेय-उज्जैन , मीनाक्षी लेखी, रीता बहुगुणा शामिल है।

दरअसल, बीजेपी ने राजमाता विजयाराजे सिंधिया के जन्म शताब्दी वर्ष के बहाने अब महिलाओं से रसोई पे चर्चा करने का प्लान है।इस प्लान के तहत प्लान ये है कि बीजेपी महिला मोर्चा की सदस्य घर-घर जाकर महिलाओं से रसोई के बहाने उनकी, उनके घर-परिवार की परेशानियों, समस्याओं और मुद्दों पर चर्चा करेंगी। इसके अलावा  महिला मोर्चा की सदस्य इन महिलाओं को सरकार की नीतियों और संगठन के प्लान के बारे में भी बताएंगी। इसके लिए पार्टी ने स्मृति ईरानी को इंदौर, सरोज पांडेय को उज्जैन, मीनाक्षी लेखी को जबलपुर और रीता बहुगुणा को रीवा के लिए चुना है। बीजेपी के इस अभियान में पार्टी के केंद्रीय नेता भी महिला मतदाताओं की रसोई में दस्तक देंगे> पार्टी ने कमल शक्ति संवाद कार्यक्रम भी रखा है जिसमें पार्टी की शीर्ष महिला ब्रिगेड संवाद करेगी।इसके पहले रक्षाबंधन पर मुख्यमंत्री शिवराज ने महिला वोटरों को साधने के लिए एक भावात्मक पत्र लिखा था, जिसमें भाई शिवराज को वोट देने की अपील की गई थी। 

बता दे कि प्रदेश में कुल पांच करोड़ तीन लाख 94 हजार 86 मतदाता है। इसमें 2 करोड़ 40 लाख 77 हजार महिला मतदाता हैं। इस बार की वोटर लिस्ट में 5 लाख 88 हजार 34 महिला मतदाता बढ़ी हैं।जिसके कारण भाजपा का पूरा फोकस पुरुष मतदाताओं के साथ महिला मतदाताओं पर है। अगर पिछले विधानसभा चुनाव की बात करे तो भाजपा ने कुल 230 में से 165 सीटें जीती थी। वहीं कांग्रेस को 58 सीटें मिली थीं ।चुंकी अब भाजपा का नारा दो सौ पार का है इसलिए भाजपा ने अपनी तैयारियों मेंं दुगुना इजाफा किया है।

"To get the latest news update download tha app"