पत्रकार की हत्या के विरोध में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

सागर। विनोद जैन।

मध्यप्रदेश के सागर जिले के शाहगढ में पत्रकार चक्रेश जैन की ह्त्या के खिलाफ सुरखी के पत्रकार विनोद जैन के नेतृत्व में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन थाना प्रभारी जे पी ठाकुर को सौंपा गया। जिसमें उल्लेख किया गया कि जिस प्रकार आये दिन पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं उससे ऐसा प्रतीत हो रहा है, जैसे लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को खत्म करने की कोशिश हो रही है। निष्पक्ष खबर छापने वाले पत्रकारों के खिलाफ भ्रष्टाचारी नेता अधिकारी गुंडे और माफिया चरम सीमा पर उतरकर लगातार हमले कर रहे हैं और पत्रकारों की आये दिन हत्यायें हो रही हैं झूठे मामले भी दर्ज हो रहे हैं। 

ताजा मामला सागर जिले की जनपद पंचायत शाहगढ का सामने आया है जहाँ पत्रकार चक्रेश जैन के उपर पहले तो जनपद पंचायत शाहगढ के सहायक विस्तार अधिकारी अमन चौधरी ने हरिजन एक्ट का मामला दर्ज करवाया फिर राजीनामा के बहाने पत्रकार को बुलाकर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया और उल्टे पत्रकार पर इस मामले में भी तत्काल मामला कायम करवा दिया। पुलिस ने भी बिना देर किये बगैर जांच के मामला दर्ज भी कर लिया लेकिन हकीकत कुछ और ही सामने आई जिसमें पत्रकार लगभग 90 फीसदी जली हालत में दो किलोमीटर दूर मिला और उसने अपने भाई को पूरी घटना भी बताई।

जब उसका भाई उसे अस्पताल लेकर पहुंचा तो अमानवीयता की हद पार करते हुये न तो डाक्टरों ने पत्रकार का इलाज किया और न वहाँ मौजूद पुलिस ने पत्रकार के मरणासन कथन लिए इसलिए हम सभी पत्रकार और जनता के लोग यह मांग करते हैं कि जिस तरह बिना जांच किये अमन चौधरी की शिकायत पर पत्रकार के खिलाफ तत्काल मामला कायम किया गया उसी प्रकार अमन चौधरी और इस कृत्य में शामिल उसके साथियों पर पर तत्काल हत्या का मामला दर्ज किया जाये। मृतक पत्रकार के परिजनों को आर्थिक सहायता दी जाये एवं पत्रकारों की सुरक्षा के लिए गंभीर कदम उठाये जायें ज्ञापन सौंपने में पत्रकार विनोद जैन संजय भार्गव महेन्द्र पटैल नासिर खान सुरखी सरपंच ठाकुर महराजसिंह प्रशांत जैन बबलू जैन राजा खान हरिनारायण पटैल नबाब खान नर्मदा पटैल और अनेक ग्रामवासी मौजूद रहे ।

"To get the latest news update download the app"