मंत्री की दो टूक- ये हरे डंपर किसके है, पता लगाओ, 7 दिन में बंद होना चाहिए अवैध रेत खनन

होशंगाबाद

विभाग संभालते ही कमलनाथ सरकार के मंत्री एक्शन मोड़ में आ गए है।कांग्रेस उन मुद्दों पर फोकस कर रही है जिन्हें विपक्ष में रहकर वो खुद उठाती आई है ।कुछ ऐसा ही गुरुवार को खनिज विभाग की बैठक में हुआ जहां खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल ने खनिज अधिकारियों की जमकर क्लास ली। उन्होंने अधिकारियों को दो टूक कहा जिले में रोज 500 हरे रंग के डंपर अवैध रेत परिवहन कर रहे हैं। ये डंपर किसके है, सात दिन के अंदर अवैध खनन बंद हो जाना चाहिए और मुझे इसकी रिपोर्ट भी चाहिए।ये कांग्रेस की सरकार है।

दरअसल, गुरुवार को खनिज साधन मंत्री प्रदीप जायसवाल ने खनिज अधिकारियों की साथ बैठक की । जायसवाल ने जिला खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला से कहा कि खड़े हो जाओ और बताओ कि हरे रंग के रेत के डंपर किसके हैं। इनसे अवैध खनन की शिकायतें मुझे मिली हैं। साथ ही उन्होंने अधिकारी को दो टूक शब्दों में कहा- सुन लो मिस्टर शुक्ला, होशंगाबाद में रोज 500 हरे रंग के डंपर अवैध रेत परिवहन कर रहे हैं। सात दिन के अंदर अवैध खनन बंद हो जाना चाहिए और मुझे इसकी रिपोर्ट भी चाहिए। पिछले 15 साल से जो चल रहा था, अब ऐसा नहीं चलेगा। उन्होंने कहा एक साल में खनिज राजस्व दोगुना करना है। एक सप्ताह के अंदर रेत नीति का प्रारूप तैयार कर लिया जाए।

उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी ऐसा कार्य करे, जिससे जनता को बदलाव का अहसास हो। अवैध उत्खनन करने वाले छोटे-बड़े सभी ठेकेदारों पर सख्ती से कार्रवाई करें। नई रेत नीति और खनिज नीति के संबंध में सुझाव शीघ्र दें। युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया कराएँ। खनिज साधन विभाग सरकार की सकारात्मक छवि बनाए और राजस्व बढ़ाने में मदद करे। उन्होंने नर्मदा नदी में होने वाले खनन को सख्ती से रोकने के निर्देश दिये। समाचार-पत्रों में प्रकाशित खबरों की तथ्यात्मक जानकारी एकत्रित कर समुचित कार्रवाई करें। की गई कार्रवाई से जनता को अवगत कराएँ। बैठक राजस्थान मॉडल पर भी चर्चा की गई।वही उन्होंने बैठक में नई खनिज नीति और रेत नीति के लिए भी अधिकारियों से सुझाव मांगे गए। 


"To get the latest news update download the app"