राष्ट्रीय हिंदू भवानी संगठन के अध्यक्ष पर जानलेवा हमला, जेल प्रबंधन की कार्यशैली पर उठे सवाल

भोपाल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की सेंट्रल जेल की सुरक्षा में चूक सामने आई है। आज बुधवार जेल के एक कैदी पर धारधार हथियार से हमला कर दिया गया। घायल कैदी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।हमले के बाद से ही जेल प्रबंधन पर सवाल खड़े होने लगे है। हालांकि जेल प्रबंधन इस मामले की जांच में जुट गया है।बताया जा रहा है कि आपसी रंजिश के चलते कैदी पर हमला किया गया है। 

दरअसल, आज राजधानी भोपाल की सेंट्रल जेल में सुबह राष्ट्रीय हिंदू भवानी संगठन के अध्यक्ष भानू खटीक पर किसी ने ब्लेड से जानलेवा हमला कर दिया।हमले में भानू गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे जेल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।हमले की खबर लगते ही भानु के समर्थक जेल के बाहर भारी संख्या में इकट्ठा हो गए।

बताया जा रहा है कि यह हमला जावेद खान नामक कैदी ने किया है। जावेद मौलाना गैंग से जुड़ा हुआ है ।आपसी रंजिश के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया है। घटना के बाद से ही जेल प्रबंधन की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो रहे है। वही यह बात भी समझ से परे है कि आखिर जेल में ब्लेड कैसी पहुंची और किस साजिश के तहत यह हमला किया गया।फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही खुलासा किया जाएगा।

जेल में हुए हमले को लेकर जेल मंत्री अंतर सिंह आर्य ने बड़ा बयान दिया है। मंत्री आर्य ने कहा है कि उन्हें भोपाल सेंट्रल जेल में विचाराधीन बंदी भानु खटीक के हमले की जानकारी नही है। मीडिया से मामला संज्ञान में आया है। हमले की जांच होगी।जांच के आधार पर दोषियों को सख्त सजा दी जाएगी। इसके साथ ही जेलों की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की जाएगी।जेलों में भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने पर जांच की जाएगी।


"To get the latest news update download tha app"