शेल्टर होम रेपकांड: दो दिन के पुलिस रिमांड पर अश्विनी, एसआईटी करेगी जांच

भोपाल। 

राजधानी के शेल्टर होम रेपकांड का आरोपी अश्विनी शर्मा 2 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। पुलिस ने उसे शुक्रवार को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे दो दिन की रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया। आरोपी हॉस्टल संचालक पर 3 प्रकरण दर्ज हो चुकी हैं। मामले में मूखबधिर छात्राओं से पूछताछ के लिए पुलिस ने उनकी भाषा के एक्सपर्ट्स का सहारा लिया है। लड़कियों से पूछताछ शुरू कर दी गई है। 

         जानकारी के अनुसार अवधपुरी स्थित प्राइवेट हॉस्टल में दिव्यांग छात्राओं के रेप कांड की जांच एसआईटी करेगी। आईजी जयदीप प्रसाद ने एसआईटी गठित कर दी है। ये टीम एसपी साउथ राहुल कुमार लोढ़ा के निर्देशन में काम करेगी। भोपाल में हुए हैवानियत भरे इस कांड का खुलासा गुरुवार को हुआ था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना पर बेहद अफ सोस जताते हुए शुक्रवार सुबह मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ बैठक की थी। अफ सरों को स$खत निर्देश दिए थे कि आरोपियों को सज़ा दिलाने के लिए ज़रूरी वैधानिक कार्रवाई समय पर हो और उसमें कहीं कोई कमी ना रह जाए।

- एक्सपर्ट्स के सहारे मूखबधिर लड़कियों से पूछताछ

एनजीओ के गल्र्स हॉस्टल में बच्चियों से दुष्कर्म और छेड़छाड़ के सनसनीखेज मामले में पुलिस ने मूखबधिर भाषा के एक्पर्टस से संपर्क किया है। इनकी मदद से हॉस्टल की अन्य छात्राओं से भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस का अनुमान है कि एनजीओ संचालक अश्वनी शर्मा हॉस्टल की अन्य छात्राओं के साथ भी इसी तरह की हरकतें कर चुका है। 

-तीन सालों में हॉस्टल में रहीं सभी छात्राओं से होगी पूछताछ

एसपी साउथ राहुल कुमार लोढ़ा के अनुसार पिछले तीन सालों में हॉस्टल में 21 छात्राएं आ और जा चुकी हैं। सभी की लिस्ट बना ली गई है। उन सभी से मुखबधिर भाषा के एक्सपर्टस की मदद से पूछताछ की जाएगी। कुछ छात्राओं से पुलिस संपर्क भी कर चुकी है। वहीं आरोपी से पूछताछ शुरू कर दी गई है। अन्य मामलों का खुलासा होने पर अलग-अलग प्रकरण दर्ज किए जाएंगे। हैवानियत करने वाले आरोपी को पुलिस सटीक जांच कर सजा दिलाने का पूरा प्रयास कर रही है।