एक मंच पर आये शिवराज- लक्ष्मीकांत, कमलनाथ ने साधा निशाना

भोपाल

चुनावी समर में व्यापमं घोटाले के आरोपी पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा की सक्रियता चर्चा का विषय बन गई है, उनके चुनाव लड़ने की अटकले लगाई जा रही है। वहीं शर्मा ने मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के साथ मंच साझा किया, सीएम ने उन्हें गले भी लगाया. इसको लेकर सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है, वहीं व्यापमं घोटाले के मुख्य आरोपी के साथ सीएम के मंच साझा करने पर पीसीसी चीफ कमलनाथ ने सवाल उठाये हैं। कमलनाथ ने कहा है कि  जमानतदार और अमानतदार एक दूसरे का राज छुपा रहे हैं, लेकिन ये कितनी भी कोशिश करे ले जनता 28 नवंबर को इन घोटालेबाजो  का साम्राज्य खत्म कर देगी ।

        दरअसल, कमलनाथ ने ट्वीटर के माध्यम से सरकार पर तीखे वार किए है। कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा है कि व्यापम घोटाले में ज़मानत पर मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा शिवराज की अमानत है । ज़मानतदार  राज़ की बात कह दूँ तो जाने महफ़िल में फ़िर क्या हो। अमानतदार राज़ खुलने का तुम पहले ज़रा अंजाम सोच लो, इशारों को अगर समझो, राज़ को राज़ रहने दो। इसके साथ ही उन्होंने दूसरे ट्वीटर में लिखा है कि जमानत दार अमानत दार छुपाते है एक दूसरे के राज ।अब 28 नवंबर को जनता खत्म कर देगी घोटाले बाजो का साम्राज्य।

बताते चले कि बीते दिनों मध्यप्रदेश के पूर्व जनसंपर्क मंत्री और व्यापमं मामले में बीजेपी से निष्कासित हुए लक्ष्मीकांत शर्मा ने सिरोंज में सीएम शिवराज की जन आशीर्वाद यात्रा में मंच साझा किया था। यहां उन्होंने मंच से सीएम की जमकर तारीफ भी की थी। इसके बाद से ही उनके सिरोंज से चुनाव लड़ने की अटकलों ने जोर पकड़ रखा है।  सिरोंज सीट पर बीते तीन दशक से ब्राह्मण उम्मीदवार का ही वर्चस्व रहा है। बीते दिनों उन्हें भाजपा कार्यालय भी बुलाया गया था। जानकारों का भी कहना है कि बीजेपी इस बार शर्मा को टिकट देकर ब्राह्मण वोटरों को साध सकती है। हालांकि बीजेपी की तरफ से अभी कोई घोषणा नही की गई है, कि वे चुनाव लडेंगें या नही। लेकिन सीएम के साथ इस तरह मंच साझा करने के बाद से ही उनके बीजेपी में शामिल होकर चुनाव लड़ने के संकेत मिल रहे है, वही व्यापमं के आरोपों से लक्ष्मीकांत की छवि ख़राब हुई है, जिससे कुछ स्थानीय नेता उनकी सक्रिय के विरोध में भी है, वहीं उनके समर्थक चाहते हैं कि वो फिर मैदान में उतरें।

"To get the latest news update download the app"