प्रदेश में बदलने वाला है मौसम, जल्द अच्छी बारिश के आसार

भोपाल। मध्यप्रदेश में बारिश का दौर थमने से उमस से लोग परेशान हैं, वहीं किसानों की मुश्किलें बढ़ गई है| करीब दस दिन के ब्रेक के बाद एक बार फिर प्रदेश में मानसूनी बारिश का दौर शुरू होने वाला है| इसके बाद गर्मी और उमस से लोगों को राहत मिल जाएगी। मौसम विभाग के मुताबिक 23 जुलाई से फिर से मानसूनी बारिश का दौर शुरू होने जा रहा है। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कुछ स्थानों पर हल्की बारिश दर्ज की गई है। शेष संभागों में मौसम शुष्क बना हुआ है। जबलपुर, रीवा और चंबल संभागों में यह बारिश हुई है। इनमें अजयगढ़ में 4 सेमी, नागौद में दो और भिंड में 1 सेमी बारिश दर्ज की गई है।

बंगाल की खाड़ी में हलचल और राजस्थान से बंगाल की खाड़ी तक बनी द्रोणिका लाइन (ट्रफ) के प्रभाव से पूर्वी मप्र में बरसात का सिलसिला शुरू हो गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में शनिवार तक एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की पूरी संभावना है। फिलहाल पूरे प्रदेश में बादल छाए हुए हैं। हालांकि 20 तारीख के बाद हल्की बारिश का दौर शुरू हो जाएगा। इस सिस्टम के प्रभाव से शनिवार के बाद मप्र के कई क्षेत्रों में अच्छी बारिश का सिलसिला शुरू होने के आसार हैं। गुरुवार को सुबह 8:30 से शाम 5:30 बजे तक जबलपुर में 22, मलाजखंड में 22, सीधी में 10 और नौगांव में 1 मिमी. बारिश हुई।

23 से 25 जुलाई तक प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर वर्षा के साथ कहीं-कहीं भारी वर्षा की संभावना है। इसके बाद लगातार बारिश का दौर चलने का अनुमान है। राजस्थान के गंगानगर से सेंट्रल मध्यप्रदेश होकर गुजरने वाली और बंगाल की खाड़ी तक जाने वाली ट्रफ लाइन (द्रोणिका) इस बार जुलाई में ही हिमालय की तराई तक पहुंच गई। इस कारण असम, बिहार, उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में जमकर बारिश हो रही है। ऐसी स्थिति में मध्यप्रदेश में बारिश का दौर थम गया था।  मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक वर्तमान में उत्तर-पश्चिम राजस्थान से दक्षिणी उत्तरप्रदेश, दक्षिणी बिहार, झारखंड, उत्तरी उड़ीसा से बंगाल की खाड़ी तक एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बनी हुई है। इसके अतिरिक्त उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी से दक्षिणी उड़ीसा और आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन सिस्टम के प्रभाव से शनिवार को उड़ीसा कोस्ट पर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के संकेत मिले हैं। इस सिस्टम के आगे बढ़ते ही पूरे मप्र में एक बार फिर अच्छी बरसात का दौर शुरू हो जाएगा। इसके पूर्व प्रदेश के ऐसे क्षेत्र जहां तापमान सामान्य से काफी अधिक दर्ज हो रहा है, वहां गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ने का सिलसिला भी शुरू होगा।

अगले 24 घंटों में ऐसा रहेगा मौसम

मौसम विशेषज्ञ के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी मध्य प्रदेश का श्योपुरकलां, मुरैना, भिण्ड जिलों एवं पूर्वी मध्य प्रदेश के बालाघाट, मण्डला, डिंडोरी, उमरिया, शहडोल, अनूपपुर, सीधी, सिंगरौली, रीवा, अधिकांश स्थानों पर हल्की बारिश के साथ एक-दो जगहों पर मध्यम बारिश की संभावना है। 23 से 25 जुलाई तक प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर वर्षा के साथ कहीं-कहीं भारी वर्षा की संभावना है।

"To get the latest news update download the app"