जब कांग्रेस सांसद ने किसानों से कह दी 2-2 करोड़ कर्जमाफी की बात, फिर हुआ ये

रतलाम।

मध्य प्रदेश में इन दिनों किसान कर्ज माफी का दौर चल रहा है। कांग्रेस नेता भी जनता के बीच अपनी सरकार का बखान करने से पीछे नहीं आ रहे है, ऐसे में नेताओं की जुबान भी जमकर फिसल रही है, जिससे सरकार की जमकर किरकिरी भी हो रही है। ताजा मामला रतलाम जिले से सामने आया है जहां कांग्रेस सांसद कांतिलाल भूरिया ने किसानों के बीच दो दो करोड़ का कर्जा माफ करने की बात कह डाली।भूरिया के ये कहते ही किसानों की खुशी का ठिकाना न रहा। हालांकि बाद में उन्होंने बात को संभालते हुए दो दो लाख की बात कही और माहौल पूरी तरह से बदल गया।

दरअसल, रविवार को कांग्रेस सासंद भूरिया मुख्यमंत्री कन्यादान सम्मेलन के कार्यक्रम में शामिल होने रतलाम जिले के नामली पहुंचे थे, जहां किसानों से चर्चा करते हुए उन्होंने दो-दो करोड़ का कर्जा माफ होने की बात कह डाली।भूरिया की बात सुनते ही किसानों में खुशी की लहर दौड़ गई और उन्होंने भूरिया के पक्ष मे नारेबाजी करना शुरु कर दी, आपस में वे एक दुसरे  को बधाई देने लगे। हालांकि भीड़ में मौजूद कांग्रेसियों ने बात को संभालते हुए तुरंत उन्हें याद दिलाया कि वह दो-दो करोड़ नहीं बल्कि दो-दो लाख है, जिसके बाद कांतिलाल भूरिया ने अपनी गलती सुधारते हुए किसानों को बताया कि 2-2 लाख कर्जमाफ हुआ है।जिससे पलभर में ही खुश हुए किसानों के चेहरे पर उदासी छा गई और सभा का पूरा माहौल ही बदल गया।

बात इतने पर ही खत्म नही हुई, चर्चा के दौरान भूरिया कई बार मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम को लेकर भी लड़खड़ाते हुए नजर आए। भूरिया ने कहा कि 15 साल से प्रदेश में बीजेपी की सरकार थी, लेकिन प्रदेश की जनता ने परिवर्तन किया और अब प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ बने हैं। कमल का नाथ और नाथ आ गया तो किसी की चलने वाली नही। जिसके बाद पास ही खड़े कार्यकर्ताओं और किसानों की हंसी छूट गई। सभा में जमकर ठहाके लगने लगे। 

बता दे कि यह कोई पहला मौका नही है जब भूरिया की जुबान फिसली हो , इसके पहले भी भूरिया अपनों बयानों को लेकर सुर्खियों में आ चुके है। लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं के ये गलती सरकार पर भारी पड़ सकती है। नेताओं की इसी तरह की बयानबाजी के चलते ही हाल ही में कमलनाथ सरकार ने मंत्रियों को मीडिया से बात करने पर बैन लगा दिया था। 


"To get the latest news update download tha app"