जब गौर ने किया था शिवराज की नर्मदा यात्रा पर कटाक्ष

भोपाल।

 बीजेपी के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर हमेशा अपने बेबाकी और खुलेमन के लिए जाने जाते थे।इसीलिए वे   बीजेपी के साथ-साथ बाक़ी दलों के नेताओं में भी लोकप्रिय थे। कई मामलों में वे अपने सरकार को घेरने से भी पीछे नही हटते थे। उन्होंने मेट्रो, कुपोषण और नर्मदा यात्रा जैसे मुद्दों पर सवाल उठाकर कई बार सड़क से लेकर सदन तक अपनी सरकार को घेरा तो कई बार कांग्रेस की तारीफ भी की। उनके बयान हमेशा सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर देते थे, फिर चाहे मामला विपक्ष का हो या सत्ता पक्ष का। 

दरअसल, बात उन दिनों की है जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय , पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की नर्मदा यात्रा की तर्ज पर नर्मदा परिक्रमा यात्रा निकालने वाले थे। तब गौर ने उनसे एक सवाल पूछा था किअगर दिग्विजय की यात्रा राजनैतिक है तो यह यात्रा छह माह नहीं करें| हेलीकाप्टर या बस से घूम आएं। अगर धार्मिक यात्रा है तो नंगे पैर चलें, सब छोड़ दें ओर उसके बाद कभी राजनैतिक यात्रा न करें।उन्होंने दिग्विजय सिंह से कहा था कि अगर सत्ता पाने के लिए नर्मदा परिक्रमा कर रहे तो 2018 में महाभारत के लिए तैयार रहें।

इस दौरान उन्होंने शिवराज सिंह चौहान की नर्मदा यात्रा पर भी सवाल खड़े किए और तीखी प्रतिक्रिया दी थी।गौर ने कहा था कि  शिवराज की यात्रा शाही यात्रा थी।  उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह की नर्मदा सेवा यात्रा धार्मिक नहीं थी। उन्होंने कहा कि वो खुद और सीएम शिवराज सिंह नर्मदा सेवा यात्रा में हेलीकॉप्टर से जाते थे। इसलिए वो यात्रा धार्मिक यात्रा नही, शाही यात्रा थी।


"To get the latest news update download the app"