MP चुनाव: भाजपा ने 'बाहरी' को दिया मौका, कांग्रेस छोड़कर आये इन नेताओं को टिकट

भोपाल| मध्य प्रदेश में सियासी पारा उछाल मार रहा है, बीजेपी और कांग्रेस के बीच मुकाबला कडा हो गया है| ऐसा इसलिए भी है कि कई नेताओं ने चुनाव से ठीक पहले दल बदले हैं| ख़ास बात यह है कि ऐसे नेता टिकट पाने में सफल भी हो गए हैं| अब तक जिस पार्टी के नाम पर वोट मांगने यह नेता मैदान में उतरते थे अब उसी पार्टी के खिलाफ ताल ठोकेंगे| कांग्रेस ने अब तक जारी हुई सूची में पैराशूट वाले नेताओं को तरजीह दी है और टिकट देकर अपना कमिटमेंट पूरा किया है| वहीं भाजपा ने भी कांग्रेस को जवाब देने कांग्रेस नेताओं को ही टिकट दिया है| 

गुरूवार को जारी हुई 32 प्रत्याशियों की सूची में बीजेपी ने बाहरी नेताओं को भी टिकट दिए हैं| कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए वरिष्ठ नेता प्रेमचंद गुड्डू के बेटे अजीत प्रेमचंद बोरासी और मुलायम सिंह टिकट लेने में सफल हुए हैं| तेंदूखेड़ा से विधायक संजय शर्मा भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए थे तो इस सीट पर कांग्रेस के प्रमुख दावेदार मुलायम सिंह ने भाजपा का दामन थाम लिया| अब इसी सीट से भाजपा ने उन्हें प्रत्याशी  बनाया है| मुलायम 2003 तक भाजपा में थे, पर भाजपा ने तब संजय शर्मा को टिकट दे दिया था, इससे नाराज होकर मुलायम कांग्रेस में चले गए थे। इस बार मुलायम कांग्रेस से टिकट के प्रमुख दावेदार थे, पर कांग्रेस ने भाजपा छाेड़कर आए संजय शर्मा को टिकट दे दिया। इसके बाद वह भाजपा में वापस आ गए| इस बार बीजेपी ने उन पर भरोसा जताया है| 

उज्जैन क्षेत्र की राजनीति में बड़ा कद वाले नेता को तोड़ने में भाजपा सफल हुई और कांग्रेस को झटका देते हुए प्रेमचंद गुड्डू को पहली पार्टी की सदस्यता दिलाई और अब उनके बेटे को टिकट दे दिया है| गुड्डू के बेटे अजीत प्रेमचंद बोरासी को घट्टिया से चुनाव लड़ेंगे| इस सीट पर बीजेपी पहले प्रत्याशी घोषित कर चुकी थी, लेकिन गुड्डू के बीजेपी में शामिल होने के बाद इस सीट को होल्ड रखा गया था| अब नामांकन से एक दिन पहले गुड्डू के बेटे को टिकट दिया गया है| इसके अलावा भिंड सीट पर कांग्रेस से भाजपा में आये राकेश चौधरी को टिकट मिला है| चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी कांग्रेस के टिकट पर भिंड से चार विधायक रह चुके हैं।