जिसका उम्मीदवार चयन सही, वो जीतेगा चुनाव : बाबूलाल गौर

भोपाल। मध्यप्रदेश में 230 सीटों पर वोटों की गिनती जारी है। भाजपा-कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। ताजा रुझानों में कांग्रेस बढ़त बनाये हुए है| लेकिन अभी रुझान है, जीत हार का फैसला थोड़े वक्त में हो जायेगा| कांग्रेस खेमे में जश्न का माहौल है और आतिशबाजी शुरू हो चुकी है|  इसी बीच पूरे चुनाव में अपने बयानों से राजनीति में हलचल पैदा करने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर ने आज मतगणना के बीच फिर बड़ा बयान दिया है। गौर ने इस चुनाव को उम्मीदवार के बीच का बताया है ना की पार्टी का। बता दे कि इस बार गौर की जगह उनकी बहू कृष्णा गौर मैदान में है। उनके सामने कांग्रेस के गिरिश शर्मा है। कृष्णा गौर आगे चल रही हैं| 

मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि यह चुनाव उम्मीदवार और उम्मीदवार के बीच था, पार्टी का नहीं। जिसका उम्मीदवार चयन सही है, वो चुनाव जीतेगा। गौर के इस बयान ने फिर भाजपा के उम्मीदवारों के चयन पर सवाल खड़े कर दिए। पार्टी में गौर के बयान से हड़कंप मच गया है। वही रुझानों मे पिछड़ने के चलते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक बुलाई है। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा शामिल हुए हैं। पार्टी इस बात पर रणनीति बना रही है अगर उसे बहुमत का आंकड़ा नहीं मिलता है और कांग्रेस भी पीछे रही है तो किस तरह गठजोड़ किया जा सकता है। वहीं कांग्रेस कार्यालय में कमलनाथ और सिंधिया परिणाम पर नजर बनाये हैं, वहीं पीसीसी के बाहर जश्न मनाया जा रहा है| 

बताते चले कि पूरे चुनाव के दौरान गौर पार्टी और नेताओं पर बयानबाजी करते आए है। वही एग्जिट पोल के बाद और मतगणना के पहले भी उन्होंने बयान देकर राजनीति में खलबली मचा दी थी। उन्होंने कहा था कि अगर बीजेपी हारती है तो इसके जिम्मेदार मुख्यमंत्री शिवराज होंगें। उनकी इस बयानबाजी के बाद मुख्यमंत्री शिवराज और प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह द्वारा उन्हें समझाइश भी दी गई थी। हालांकि इसके बाद कृष्णा गौर ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया है कि अब इस तरह के बयान नहीं आएंगे। लेकिन आज फिर गौर ने बयान दिया है।

गौरतलब है कि पिछले 13 साल से शिवराज सिंह चौहान सत्ता में हैं। उधर, 15 साल बाद कांग्रेस राज्य में वापसी का इंतजार कर रही है। शिवराज ने दावा किया था कि वे सबसे बड़े सर्वेयर हैं और वे जानते हैं कि भाजपा ही जीतेगी। वहीं, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि उनकी पार्टी 230 में से 132 सीटें जीतेगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को कांग्रेस के 140 सीटें जीतने का भरोसा है। राज्य के 8 एग्जिट पोल्स में से 5 सर्वे में कांग्रेस को आगे दिखाया गया था।खैर थोड़ी देर में स्थिति साफ हो जाएगी कि प्रदेश मे किसकी सरकार बनेगी।

"To get the latest news update download the app"