नाइट क्लब और बार का उद्घाटन करने पहुंचे बीजेपी सांसद, तस्वीरे वायरल, मचा बवाल

लखनऊ

अपने बयानों से सुर्खियां बटोरने वाले भाजपा सांसद एक बार फिर विवादों में घिर गए है। उनकी विवादित तस्वीरे सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। जिसकों लेकर यूजर्स और विपक्ष तीखे वार किए हुए है। जी हां हम बात कर रहे है भाजपा के यूपी के उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज की। जो हमेशा भारतीय सभ्यता और संस्कृति की बात करते है, और अब लखनऊ के एक नाइट क्लब और बार का उद्घाटन कर विवादों में घिर गए है। इसका ना सिर्फ भाजपाईयों ने विरोध जताया बल्कि विपक्ष ने भी जमकर चुटकी ली। कुछ लोगों ने तो उन्हें नाईट क्लब वाले बाबा तक कह डाला।

दरअसल, यूपी के उन्नाव में बीते दिनों रेप की वारदात हुई थी, जिसकों लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन किया गया था, जगह-जगह कैंडिल मार्च निकाले गए थे। घटना के बाद से ही यूपी की योगी सरकार और केन्द्र की मोदी सरकार पर कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठने लगे थे।ऐसे में उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने रविवार को नाईट क्लब का उद्घाटन कर राजनैतिक सरगर्मियां पैदा कर दी है।  

रविवार रात BJP सांसद साक्षी महाराज ने लखनऊ के एक नाइट क्लब 'लेट्स मीट' का उदघाटन करने पहुंचे थे। यह नाइट क्लबब लखनऊ के अलीगंज में है। यह एक नाईट लाउंज बार है। यहां डांस और अल्कोहल का भी इंतजाम रहेगा। खोले गए नाइट क्लब और बार का भगवा कपड़ों में उद्घाटन करने पहुंचे साक्षी महाराज का विरोध खुद उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सांसद (साक्षी महाराज) की शिकायत यूपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय से भी की है।वही इसकों लेकर विपक्ष ने चुटकी ली है। उन्होंने कहा है कि दूसरों को भारतीय संस्कृति का पाठ पढ़ाने वाले खुद क्या कर रहे हैं, क्या वे इस पर कुछ कहेंगे। वहीं इस पर लोगों का कहना है कि भगवा चोला व सिद्धांतों की बात करने वाले यह नेता किसी ना किसी बहाने जनता के सामने अपने असली रुप में आ ही जाते हैं। मामले के मीडिया में आने और विवाद के बढ़ने के चलते महाराज ने उल्टा क्लब पर FIR दर्ज करवाने के लिए लखनऊ के एसएसपी को पत्र लिखा है।

गौरतलब है कि पिछले साल यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार में मंत्री स्वाति सिंह बीयर बार का उद्धाटन कर विवादों में फंस गई थीं। सरोजिनीनगर से बीजेपी विधायक स्वाति सिंह ने लखनऊ में 20 मई को अपनी एक दोस्त के बीयर बार का उदघाटन किया था, जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गयीं थीं। विवाद बढ़ने पर राज्य सरकार ने इस बारे में स्वाति सिंह से स्पष्टीकरण मांगा था।वही विपक्षी दलों ने इसको लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है।