किसानों के खाते में 1669 करोड़ ऑनलाइन ट्रांसफर, शिवराज बोले-मेरी हर सांस किसानों के लिए

शाजापुर।

प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान आज शाजापुर में आयोजित किसान महासम्मेलन मे पहुंचे ।यहां उन्होंने  मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का शुभारंभ किया।साथ ही एक  बटन दबाकर प्रदेश के 10.76 लाख किसानों के खाते में 1699 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए। इस मौके पर सीएम ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार हर वक्त किसानों के साथ खड़ी है।आने वाले दिनो में भी सरकार किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत देगी और जब तक ये कीमत अदा नही हो जाती तब तक मैं चैन से नहीं बैठूँगा। इस दौरान सीएम ने कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में ऐसा नहीं होता था, ना तो बिजली मिलती थी और ना ही फसल खराब होने पर कोई मुआवजा। लेकिन हमारी सरकार ने यह सब खत्म कर दिया। कांग्रेस के जमाने में 2 हज़ार- ढाई हज़ार रुपये राहत राशि मिलती थी। हमने इसे बढ़ाकर प्रति हेक्टेयर 30 हज़ार रुपया कर दिया।

किसानों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साल जो गेंहू प्रदेश के किसानों ने समर्थन मूल्य पर बेचा था उसके लिए 200 रुपये प्रति क्विंटल की राशि किसानों के खाते में जमा करने के लिए आज मैं शाजापुर आया हूँ। किसानों की आय बढ़ाने के लिए और सिंचाई का रकबा बढ़ाने के लिए सरकार कई नदियों को जोड़ रही हैं, जिससे पानी की कमी न हो। मैं एक इंच जमीन बिना सिंचाई की नहीं रहने दूंगा ।  खेती को फायदा का धंधा बनाने के लिए सरकार ने किसान को 18 प्रतिशत से घटाकर शून्य और फिर माइनस 10 प्रतिशत की दर से ऋण दे रहे हैं। सरकार ने 1600 करोड़ रुपये राहत राशि इस वर्ष सूखा ग्रस्त इलाकों में बांटी है। भावांतर भुगतान योजना के अंतर्गत 2000 करोड़ रुपये की राशि  प्रदेश के किसानों के खाते में डाली है।

सीएम ने कहा सरकार ने फसल नुकसान पर आकलन के लिए किसानों के हित में मानक बनाकर उचित मुआवजा दिया है। खाद, बीज की उपलब्धता बढ़ाई। इसके बाद भावांतर के तहत आपके खातों में 2000 करोड़ रुपए डाले है। सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 1735 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गेहूं खरीदेंगे और 10 जून को 265 रुपये और खातों में जमा किये जायेंगे। कहीं और 2 हज़ार रुपये में गेहूं खरीदा जा रहा हो, तो बताओ। 4400 रुपये प्रति क्विंटल की दर से चना सरकार खरीदेगी एवं 100 रुपया और किसानों के खाते में डाले जायेंगे।

समस्या हो तो मुझे फोन करे

सीएम ने कहा ढाई एकड़ से नीचे के सभी छोटे किसानों को सरकार ने उनके खून पसीने, श्रम का उचित फल दिलवाने के लिएअसंगठित श्रमिक कल्याण योजना में शामिल करने का निर्णय लिया है। सरकार जल्द ही खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए फूड प्रोसेसिंग और वैल्यू एडिशन पर जोर दे रही हैं। साथ ही उपज के निर्यात की व्यवस्था कर मैं  करने जा रहा हूँ।  उपज की खरीदी की समुचित व्यवस्था की है। फिर भी कोई दिक्कत आये तो सीएम हाउस में कंट्रोल रूम के इस नंबर 0755-2540500 पर फोन करें, आपकी समस्या का समाधान होगा।


 बुंदेलखंड को कांग्रेस ने सूखे का अभिशाप दिया, हमने पानी बिजली पहुंचाई 

मुख्यमंत्री शिवराज ने कांग्रेस पर भी बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि राजा, अँग्रेज़, नवाब सबने मिलकर साढ़े सात लाख हेक्टेयर में सिंचाई की व्यवस्था की थी और भाजपा की सरकार ने अकेले 40 लाख से अधिक हेक्टेयर ज़मीन में सिंचाई की व्यवस्था कर दी है। काँग्रेस ने किसानों के लिए क्या किया? उस समय सिर्फ साढ़े सात लाख हेक्टेयर ज़मीन पर सींचाई की क्षमता उपलब्ध थी, शिवराज सिंह चौहान और भाजपा की सरकार ने आज 40 लाख हेक्टेयर में सिंचाई की क्षमता उपलब्ध कारवाई है। उन्होंने कहा कि काँग्रेस के जमाने में 2 हज़ार- ढाई हज़ार रुपये राहत राशि मिलती थी। हमने इसे बढ़ाकर प्रति हेक्टेयर 30 हज़ार रुपया कर दिया।जिस बुंदेलखंड को काँग्रेस ने सूखे का अभिशाप दिया, उसमें हमने 2 लाख 85 हेक्टेयर की सिंचाई की सुविधा दी और आगामी 5 सालों में दोगुनी सिंचाई क्षमता से समृद्ध करेंगे। जिस जगह से 10-10 साल काँग्रेस के मुख्यमंत्री रहे, वहाँ के किसानों को भी बिजली और पानी नहीं मिल पाया। मैंने प्रदेश के सभी किसानों के खेतों तक पानी और बिजली पहुंचाने का काम किया। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश से अंधकार दूर किया, पानी पहुंचाया, सड़कों का निर्माण किया।

"To get the latest news update download tha app"