सोशल मीडिया पर पूर्व सीएम के निधन की अफवाह, भाजपा नेताओं ने दे दी श्रद्धांजलि

भोपाल/नीमच।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। उन्हें डॉक्टरों की निगरानी में वेंटिलेंटर सपोर्ट पर रखा गया है। नर्मदा ग्रुप की चेयरपरसन डॉ. रेणु शर्मा का कहना है कि गौर के शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया है। अस्पताल में भाजपा नेताओं और उनके समर्थकों का तांता लगा हुआ है। रिश्तेदार भी भोपाल पहुंचे गए है। वही सोशल मीडिया पर उनके  निधन की अफवाहें तेजी से चल रही है। हद तो तब हो गई जब नीमच में बीजेपी पार्षदों ने उन्हें पहले ही श्रद्धांजलि दे दी। बाद में फिर उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ और माहौल गर्म हो गया। इस पूरे घटनाक्रम के बाद नगरपालिका में हडकपं मचा हुआ है। वही बैठक का श्रद्धांजलि देते हुआ वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

दरअसल, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की हालत लगातार नाजुक बनी हुई है। भोपाल के निजी अस्पताल में उनका इलाज जारी है। बाबूलाल गौर को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है और डॉक्टरों के मुताबिक उनके स्वास्थ्य में सुधार दर्ज नहीं किया गया है। बुधवार को सुबह अस्पताल द्वारा बुलेटिन जारी कर उनकी हालत गंभीर होने की जानकारी दी गई है। इसके बाद से ही उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए अस्पताल में भाजपा नेताओं और उनके समर्थकों का तांता लगा हुआ है| फिलहाल, उनसे मिलने की इजाजत किसी को नहीं दी जा रही है।  

इस बीच सोशल मीडिया पर उनके निधन की फर्जी खबर वायरल हो गई। जिसके बाद कई लोग इस फर्जी पोस्ट की चपेट में आ गए। सोशल मीडिया पर कई बड़े नेता भी उन्हें श्रद्धांजलि दे चुके हैं| अफवाहों पर भरोसा कर नीमच भाजपा नपाध्यक्ष राकेश पप्पू जैन भी ट्रोल हो गए, उन्होंने परिषद की बैठक में पहुंचते ही दु:खद संदेश दिया कि पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर नहीं रहे। दो मिनट का मौन रखकर पूर्व सीएम को श्रद्धांजलि देंगे। इसके बाद 16 अगस्त को सुबह 11.30 बजे तक के लिए बैठक स्थगित की जाएगी। श्रद्धांजलि देने के बाद विधायक प्रतिनिधि मनोहर मोटवानी सभाकक्ष में पहुंचे। उन्होंने कहा कि कुछ गलत हुआ है। पूर्व सीएम गौर जीवित हैं।  इसके बाद परिषद कक्ष का माहौल गरमा गया। वहां मौजूद मीडियाकर्मी ने भोपाल फोन लगाकर पुष्टि की। इसके बाद नपाध्यक्ष और सीएमओ से जवाब देते नहीं बना।। हालांकि तब तक नगरपालिका की बैठक का वीडियो वायरल हो गया है, जिसके बाद से ही हड़कंप मचा हुआ है।


"To get the latest news update download the app"