महाराजा के 'रण' में डेरा डालेंगी महारानी, चुनाव लड़ने की अटकलें बढ़ी

भोपाल। ग्वालियर राजपरिवार की महारानी प्रियदर्शनी सिंधिया राजनीति में उतरने की तैयारी में है। अभी तक सिर्फ चुनाव में पति ज्योरिातिरादित्य सिंधिया के लिए वोट मांगने तक सीमित रहीं हैं, लेकिन वे अब खुलकर राजनीति में सक्रिय होने जा रही हैं। गुना संसदीय क्षेत्र में वे 18 से 26 फरवरी तक डेरा डालेंगी और सिर्फ महिलाओं से संवाद करेंगी। उनका कार्यक्रम तैयार हो चुका है। प्रियदर्शनी की सक्रियता से उनके गुना संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लडऩे की अटकलों को बल मिल रहा है। 

प्रियदर्शनी राजे सिंधिया पहली बार इतना लंबा समय जनता के बीच बिताएंगी। वे गुना संसदीय क्षेत्र की शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र से अपना संवाद शुरू करेंगी। इसके बाद वे पिछोर, कोलारस विधानसभा क्षेत्र में भी जांएगी। वे 26 फरवरी तक गुना, अशोकनगर जिले में भी जाएंगी। उनके दौरे की खास बात यह रहेगी कि वे सिर्फ महिलाओं के बीच जाएंगी। खासकर महिला समूहों को संबोधित करेंगी। इसके लिए स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनके प्रवास की तैयारी कर ली है। उनके साथ पार्टी की महिला कार्यकर्ता एवं उनकी समर्थक महिलाओं का समूह भी रहेगा, जो महिला संवाद के दौरान उनके साथ रहेगा। प्रियदर्शनी के इस कदम को उनके गुना संसदीय क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतरने से जोड़कर देखा जा रहा है। पिछले दिनों गुना सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अशोकनगर प्रवास के दौरान पत्नी के चुनाव मैदान में उतरने के संकेत दिए। बतौर सिंधिया उनकी पत्नी के चुनाव लडऩे का फैसला पार्टी करेगी। 


महिलाओं को साधने की तैयारी

प्रियदर्शनी राजे सिंधिया के इस प्रवास कार्यक्रम को आगामी लोकसभा चुनाव की जमावट से जोड़कर देखा जा रहा है। यदि वे खुद चुनाव मैदान में उतरेंगी तो उन्हें इसका फायदा मिलेगा। वे खुद चुनाव नहीं लड़ेंगी तब भी वे अपने पति के प्रचार की कमान संभालेंगी। क्योंकि सिंधिया इस बार चुनाव में मप्र ही नहीं दूसरे राज्यों में भी सक्रिय रहेंगे। तब प्रियदर्शनी राजे ही चुनाव की कमान संभालेंगी। यही वजह है कि वे महिलाओं के बीच पकड़ बनाने में जुट गई हैं। 

"To get the latest news update download the app"