VIDEO: रंगों से सराबोर हुआ इंदौर, गेर में झूमते हजारों लोग, मिसाइल से हो रही रंगों की बौछार

इंदौर| आकाश धोलपुरे| प्रदेश भर में आज रंगपंचमी की धूम है| लेकिन सबसे ज्यादा ख़ास नजारा इंदौर में देखने को मिल रहा है|  रंगों का खुमार इंदौर में सिर चढ़कर बोल रहा है| यहां पारंपरिक गेर निकाली जाती है, जिसमे नाचते गाते लोग सभी बैर भूलकर गेर में चलते हैं|  रंगपंचमी पर आज इंदौर में कई गेर और फाग यात्राएं जा रही जो शहर के अलग - अलग हिस्सों से शुरू शहर के ह्रदय स्थल राजबाड़ा पर पहुँच रही है|  लाखों लोग इंदौर की इस परंपरा के साक्षी बन रहे है।  

इंदौर में सोमवार को रँगपंचमी के मौके पर शहर भर से कई रंगारंग गेर और फाग यात्राएं निकाली गईं। इसमें हजारों किलो गुलाल और पानी से लाखों लोगों को भिगोया गया । वर्षों पुरानी इस परंपरा के लाखों लोग साक्षी बने। टोरी कॉर्नर रंगपंचमी महोत्सव समिति, रसिया कॉर्नर, संगम कॉर्नर चल समारोह, मॉरल क्लब के अलावा हिंद रक्षक संगठन और माधव फाग यात्रा निकाली गईं । हर वर्ष इंदौर के साथ ही बाहर से भी लोग इस यात्रा में शामिल होने आते हैं।

 गेर में मिसाइल द्वारा 200 फीट ऊपर तक लोगों को रंगों से भिगोया गया । 7 हजार किलो टेसू के रंग से बने गुलाल द्वारा राजबाड़ा पर तिरंगा पानी और गुलाल की मिसाइल से बनाया गया था । अग्नि मिसाइल द्वारा गुलाब के फूल पंखुडिय़ों से स्वागत किया गया । बरसाना से आई टीम ने लट्ठ मार होली का मंचन किया । गैर में बैंड,  डीजे, रनगाड़े,  टैक्ट्रर,  मेटाडोर,, ढोलक, 5 पानी की मिसाइल, 3 गुलाल की मिसाइल, 2 तोप व अन्य वाहन शामिल थे । गेरें शहर के विभिन्न स्थानों सुबह 9 बजकर 30 मिनिट पर प्रारंभ होकर राजबाड़ा पहुंची। गेरों को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग राजबाड़ा पहुचे।  

गेर को विश्व धरोहर में शामिल कराने की तैयारी  

प्रदेश नहीं पूरे देश की धरोहर के रूप में पहचान पाने वाली इन गेरों को इस बार यूनेस्को में संरक्षित घोषित कराने का प्रयास किया जा रहा है।  देश के सबसे स्वच्छ शहर में 72 साल से चली आ रही सतरंगी गेर की परंपरा को यूनेस्को की विश्व धरोहर की सूची में शामिल करने के लिए भी शहर एकमत है। कई संगठनों द्वारा रंगपंचमी पर राजबाड़ा क्षेत्र में फाग यात्राएं भी  निकाली गई। फाग यात्रा और गैर में शामिल असमाजिक तत्वों पर भी पुलिस की कड़ी पहरेदारी है। पुलिस के 8 ड्रोन कैमरे और 2 हजार जवान चप्पे - चप्पे पर नजर रखे हुए है। हालांकि पहले की तुलना वर्तमान में फूहड़ता नही होने के कारण बड़ी संख्या में लोग परिवार के साथ गेरों में शामिल होते हैं। वही नगर निगम ने विशेष सफाई अभियान चलाने का वादा किया है इसके साथ ही गैर क्षेत्र और आस पास के इलाकों में 3 बजे से 5 बजे के बीच नगर निगम विशेष जलप्रदाय करेगा। गैर के आकर्षण का केंद्र रसिया कॉर्नर की गेर रही क्योंकि आयोजको ने पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि भी दी है वही 200 युवाओ ने हेलमेट पहनकर देश की आन बान की रक्षा का प्रण भी लिया।




"To get the latest news update download the app"