टीकमगढ लोकसभा सीट : BJP के वीरेंद्र खटीक कांग्रेस की किरण अहिरवार से 1 लाख वोटों से आगे

टीकमगढ।

एमपी में 29  सीटों पर वोटिंग जारी है और 28  सीटों पर बीजेपी लगातार आगे चल रही है। इसी बीच टीकमगढ़ लोकसभा सीट पर मुकाबला रोचक हो चला है।यहां से बीजेपी प्रत्याशी डॉ. वीरेंद्र कुमार खटीक कांग्रेस और सपा को पछाड़ करीब एक लाख वोटों से आगे चल रहे है।कांग्रेस ने यहां से महिला उम्मीदवार किरण अहिरवार को अपना उम्मीदवार बनाया है तो वहीं समाजवादी पार्टी ने हाल ही में बीजेपी को झटका देने वाले आरडी प्रजापति को उम्मीदवार बनाया है। इस सीट पर पांचवें चरण में 6 मई को वोटिंग हुई थी, जिसमें क्षेत्र के कुल 1646108 वोटरों में से 66.47 फीसदी ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था।

वीरेन्द्र खटीक दो बार इस सीट से सांसद रह चुके है और पार्टी ने तीसरी बार उन पर भरोसा जताया है।2009 में हुए पहले चुनाव में बीजेपी के वीरेंद्र कुमार ने जीत हासिल की थी। उन्होंने कांग्रेस के वृन्दावन अहिरवार को हराया था। 2014 में वीरेंद्र कुमार दोबारा जीत हासिल करने में कामयाब रहे। उन्होंने कांग्रेस के कमलेश वर्मा को शिकस्त दी थी। टीकमगढ़ लोकसभा सीट के अंतर्गत विधानसभा की 8 सीटें आती हैं। टीकमगढ़, निवाड़ी, छतरपुर, जतारा, खरगापुर, बीजावर, पृथ्वीपुर और महाराजपुर, ये वो विधानसभा सीटें हैं। 2009 के चुनाव में वीरेंद्र कुमार को 2,00,109 वोट मिले थे तो वहीं वृन्दावन को 1,58,247 वोट मिले थे। 2014 के चुनाव में वीरेंद्र कुमार ने कांग्रेस के कमलेश वर्मा को हराया था। वीरेंद्र कुमार को इस चुनाव में 4,22,979 वोट मिले थे तो वहीं कमलेश वर्मा को 2,14,248 वोट मिले थे। वीरेंद्र कुमार ने 2,08,731 वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी। इस चुनाव में समाजवादी पार्टी के डॉ.अंबेश 47,497 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर थे।वही कांग्रेस ने इस बार महिला उम्मीदवार किरण अहिरवार को टीकमगढ़ के महाभारत में उतारा है। यहां पैराशूट कैंडिडेट के उतरने से कई लोगों को नागवार गुजरा। कांग्रेस के कमलेश वर्मा को टिकट की आस थी, लेकिन टिकट कटने से कमलेश वर्मा खेमा नाराज है। किरण अहिरवार का कोई राजनीतिक बैकग्राउंड भी नहीं है, उन्होंने पहली बार राजनीति में कदम रखा है। इस बार किसका पलड़ा भारी रहता है। यह दोपहर तक साफ हो जाएगा। 


चुनाव मैदान में हैं ये उम्मीदवार

टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र से 14 प्रत्याशी मैदान में हैं। टीकमगढ़ लोकसभा सीट से  बीजेपी ने तीसरी बार डॉ. वीरेंद्र कुमार पर भरोसा जताते हुए चुनावी रण में उतारा है, तो वहीं कांग्रेस ने इस बार महिला पर भरोसा जताकर किरण अहिरवार पर दांव खेला है। समाजवादी पार्टी की ओर से आरडी प्रजापति चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि 5 निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव लड़ रहे हैं। राज्य में कांग्रेस और बीजेपी दोनों के बीच सीधी टक्कर है।

क्या हैट्रिक लगाएंगें खटीक

मध्य प्रदेश की टीकमगढ़ लोकसभा सीट पर अब तक 2 चुनाव हुए हैं।इन दोनों ही चुनावों में बीजेपी के वीरेंद्र कुमार को जीत मिली है। वीरेंद्र केंद्र की मोदी सरकार में राज्यमंत्री हैं। वह 6 बार सांसद रह चुके हैं। ऐसे में अगर 2019  चुनाव में खटीक फिर विजय हासिल करते है तो  ये उनकी हैट्रिक होगी।




"To get the latest news update download the app"