बेटी को गोद में लेकर आधी रात को राउंड पर निकली लेडी आईपीएस

इंदौर| बीते दिनों सोशल मीडिया पर अपनी 6 माह की बेटी के साथ थाने में ड्यूटी करते हुए एक महिला पुलिसकर्मी की फोटो पर जमकर वायरल हुई थी। जिस किसी ने भी यह फोटो देखी थी महिला पुलिसकर्मी की तारीफ ही की थी। वही खुश होकर डीजीपी ने भी उनका ट्रांसफर कर दिया था। ऐसा ही नजारा शुक्रवार-शनिवार की दरमियान मध्यप्रदेश में देखने को मिला। जहां इंदौर में एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र अपनी दो साल की बेटी को गोद में लिए थानों के निरीक्षण पर निकलीं। हाथ में बच्ची को लिए एसएसपी की यह तस्वीर अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। एसएसपी के काम के प्रति लगन और सच्ची निष्ठा की हर कोई तारीफ कर रहा है। एसएसपी ने आधी रात को थानों का निरीक्षण किया और सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी भी ली और थाना प्रभारियों को निर्देश दिए| 

दरअसल, लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है, देशभर में आचार संहिता लगी हुई है, ऐसे में थानों की सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ा दी गई है। वही अगले हफ्ते होली का त्यौहार के चलते पुलिस संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च भी निकाल रही है। इन्ही तैयारियों का जायजा लेने आईपीएस अफसर एसएसपी रुचि वर्धन मिश्र शुक्रवार बारह बजे के बाद थानों का दौरा करने पहुंची। इस दौरान उनके हाथ में सोई हुई दो साल की बच्ची भी थी। एसएसपी इस दौरान शहर से 20 किलोमीटर दूर देहात इलाके के थाने खुडैल तक गई और अपने स्टॉफ से जानकारी ली।

वहां 45 मिनट रुककर थाना प्रभारी सहित पूरे स्टाफ की जानकारी और रिकॉर्ड देखा। यहां पर उन्होंने एएसपी सूरज वर्मा और टीआई रूपेश दुबे सहित अन्य पुलिसकर्मियों को अलर्ट रहने के निर्देश भी दिए। उन्होंने रात में वाहनों की चेकिंग का भी निर्देश दिया। इस दौरान कलेक्टर लोकेश जाटव व अन्य अधिकारी भी उनके साथ मौजूद रहे। एसएसपी के यूं अचानक निरिक्षण करने पर अधिकारियों में हड़कंप मच गया।एसएसपी रुचि ने पुलिस स्टाफ की समस्याएं भी सुनीं और स्टाफ से कहा पुलिस की के कार्यप्रणाली से आम जनता को परेशानी ना हो इस पर विशेष ध्यान दिया जाए। 


सास के पैर छूकर संभाली थी कुर्सी 

इससे पहले रुचिवर्धन मिश्र तब भी सुर्ख़ियों में आई थी जब एसएसपी की कुर्सी संभालने के पहले एक संस्कारी बहु का फर्ज निभाया और अपनी सास सरला मिश्र के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया था फिर क्या जैसे ही ये तस्वीरें मीडिया में आई तो लोगो ने सोशल मीडिया पर उनकी तारीफे करना शुरू कर दिया और कई लोग तो ये कहने लगे एसएसपी से सबक लेना चाहिए उनके जज्बे को सलाम। वर्ष 2006 की आईपीएस बैच की टॉपर और अचूक निशानेबाज रुचि वर्धन मूल रूप से सतना की रहने वाली हैं। वे होशंगाबाद में एसपी और भोपाल व राजगढ़ में एएसपी रह चुकी हैं। भोपाल की ही सबसे प्रमुख सातवीं बटालियन में कमांडेंट भी रही थीं। उनके पति शशांक मिश्र उज्जैन कलेक्टर हैं। उनकी एक बेटी है। 






"To get the latest news update download the app"