नंदकुमार बोले..अपराधियों की मदद के लिए भी करना पड़ता है पुलिस को फोन

बुरहानपुर। 

चुनावी साल में शिवराज सरकार के लिए नेताओं के बयान मुश्किलें बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं| एक और विवादित बयान सामने आया है, जिसने सियासी हलचल बढ़ा दी है| मामला बुरहानपुर जिले का है, जहां प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने कुछ ऐसा कहा है जो कई सवाल खड़े करता है| चौहान का कहना है कि पुलिस दबाव में काम करती है| जनप्रतिनिधियों को कई बार मजबूरी में अपराधियों को छोड़ने के लिए पुलिस को फोन करना पड़ता है।चौहान ने इस तरह का बयान देकर विपक्ष को सरकार के खिलाफ बोलने का एक और मौका दे दिया है।

दरअसल,  बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष व सांसद नंदकुमार सिंह चौहान बुरहानपुर के पुलिस थाना नेपानगर के नवीन भवन का लोकार्पण करने पहुंचे थे। जहां जनता को संबोधित करते हुए उनकी जुबान फिसल गई और उन्होंने कहा कि हमको भी विवशता में पुलिस को फोन करना पड़ता है कि इसने ऐसा कर दिया है, लेकिन इसे छोड़ दो। हमारे फोनो के बीच अलग-अलग दलों के नेताओं के फोन भी पहुंचते हैं, विभिन्न समुदाय के दबाव से गुजरते हुए पुलिस को काम करना पड़ता है।

चौहान ने कहा पुलिस विभाग अनेक प्रकार के दबाव में काम करता है। एक अपराधी भी अपराध करने के बाद जनप्रतिनिधियो से मदद माँगता है।मजबूरी में हमे भी अपराधी के लिए पुलिस को फोन करना पडता है। पुलिस पर समाज और जनप्रतिनिधियों का दबाव रहता है लेकिन कभी कभी पुलिस के लिए यह दबाव अपराध को कम करने में मददगार भी साबित होता है